बिहार में हिंसक प्रदर्शन, भारत बंद की वजह से गया में बच्ची की मौत


नई दिल्ली : कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने आज भारत बंद बुलाया है। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों के नेता रामलीला मैदान में विरोध जता रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस दौरान मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। राहुल ने कहा ‘तेल की बढ़ती कीमतों पर पीएम मोदी एक शब्द नहीं बोलते हैं। जो देश सुनना चाहता है उस पर मोदी कभी कुछ नहीं बोलते हैं। यहां तक कि दुष्कर्म, महंगाई और राफेल जैसे तमाम मुद्दों पर भी मोदी शांत हैं।’ राहुल ने आगे कहा कि सरकार द्वारा देशभर में टॉयलेट बनाए गए लेकिन उनमें पानी नहीं है। मोदी जहां जाते हैं वहां लोगों को तोड़ते हैं। किसान-मजदूरों को आज कोई रास्ता नहीं दिख रहा है। राहुल ने कहा कि आज पूरा विपक्ष यहां एक साथ बैठा है। हम सब मिलकर भाजपा को हटाने का काम करेंगे। इससे पहले, कैलास मानसरोवर की यात्रा के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजघाट पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। राहुल गांधी और विपक्ष के कई नेता राजघाट से मार्च कर रामलीला मैदान पहुंचे। यहां सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, शरद पवार, शरद यादव और गुलाम नबी आजाद समेत कई बड़े नेता मौजूद हैं। बता दें कांग्रेस के अलावा डीएमके, एनसीपी, आरजेडी, सपा और एमएनएस सहित देश की करीब 20 विपक्षी पार्टियां विरोध-प्रदर्शन कर रही है। वहीँ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केंद्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि सरकार बदलने का वक्त आ गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार हर मोर्चे पर नाकाम रही है। उन्होंने विपक्षी दलों से अपील की है कि वे मतभेद भुलाकर एकजुट हों।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ बुलाए गए विपक्षी दलों के भारत बंद के दौरान कई हिंसक झड़पें देखने को मिली। वहीं बिहार के जहानाबाद में भारत बंद के दौरान दो साल की बच्ची की मौत हो गई है। परिवारवालों का कहना है कि भारत बंद के कारण एंबुलेंस काफी समय तक फंसी रही। बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था। वहीं इस घटना को लेकर केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने विपक्षी दलों पर हमला बोला है।रविशंकर ने कहा ‘हर किसी को आंदोलन का अधिकार है, लेकिन आज क्या हुआ? पेट्रोल पंप और बसों में आग लगा दी गई। जहानाबाद में जाम में एंबुलेंस फंसने के कारण एक बच्ची की मौत हो गई। इसके लिए कौन जिम्मेदार है?’ गौरतलब है कि इससे पहले हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर की साइकिल रैली के दौरान भी एक एंबुलेंस जाम में फंस गई थी। जिसके कारण एंबुलेंस में इलाज के लिए ले जाई जा रही बच्ची की मौत हो गई थी। भारत बंद का कुछ राज्यों में असर देखने को मिल रहा है। बिहार में कई जगहों पर बंद समर्थकों ने ट्रेनों रोक दी है। बसों में भी तोड़फोड़ की गई है। पटना के कई इलाकों में बंद समर्थक उत्पात मचा रहे हैं। कई जगह गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए गए हैं। लोगों को खदेड़ा गया है और पिटाई भी की गई है। पटना में बड़ी संख्या में बंद समर्थक भाजपा कार्यालय के सामने पहुंचे और नारेबाजी कर रहे हैं। पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। यूपी में भी जगह-जगह कांग्रेसी कार्यकर्ता तेल कीमतों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। राजधानी लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर के नेतृत्व में दुकानें बंद कराई गईं। वहीं समाजवादी पार्टी ने भी भारत बंद से अलग बढ़ती महंगाई और किसानों के मुद्दे को लेकर प्रदेशव्यापी धरने का एलान किया है। हालांकि बसपा ने कांग्रेस के भारत बंद के आह्वान पर चुप्पी साध ली है। भाजपा शासित उत्तराखंड में भारत बंद का कोई खास असर देखने को नहीं मिला।