बीजेपी का राहुल पर पलटवार

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी संविधान बचाओ अभियान की शुरुआत की, इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला. अब बीजेपी ने राहुल गांधी पर पलटवार किया है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि राहुल के अभियान का नाम संविधान बचाओ अभियान नहीं वंश बचाओ अभियान है. बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ये लोकतंत्र और वंशवाद की लड़ाई है, बीजेपी ने लोकतंत्र को आगे बढ़ाने का काम किया है. संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को सेना पर भरोसा नहीं है.
बीजेपी प्रवक्ता ने इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी पर भी हमला बोला. पात्रा ने कहा कि नेहरू ने प्रधानमंत्री बनने के लिए देश का बंटवारा होने दिया तो वहीं इंदिरा गांधी ने देश में इमरजेंसी लागू की. संबित पात्रा ने कहा कि राजीव गांधी का 84 दंगों के लेकर दिया गया बयान सभी को याद है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने देश में सत्ता पाने के लिए 3000 सिखों की हत्या करवा दी.


संबित ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को सुप्रीम कोर्ट, पीएमओ, सेना, चुनाव आयोग, आधार कार्ड, आरबीआई, राष्ट्रपति पर भी विश्वास नहीं है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि उन्होंने IIM, IIT और संविधान दिया, क्यों ना कांग्रेस चांद, तारों, पेड़ और सूरज पर भी इस प्रकार के दावे करने लगती है.
बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि राहुल गांधी एक असफल नेता हैं, इसलिए वे इस प्रकार के मुद्दे उठा रहे हैं. ये संविधान बचाओ नहीं राहुल बचाओ अभियान है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का ये गुस्सा इसलिए था क्योंकि कहीं न कहीं आज परिवारवाद मात खा रहा है और साधारण जनता सत्ता तक पहुंच रही है. पात्रा बोले कि आज राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने देश को संविधान दिया ये बाबा साहेब अंबेडकर का अपमान है. उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति खुद 15 पंक्ति नहीं लिख सकता वो आज कह रहा है कि 15 मिनट बोलने नहीं दिया जा रहा है. जो व्यक्ति बिना मोबाइल में देखे एक मिनट नहीं बोल सकता वह 15 मिनट क्या बोलेंगे.