बेटी बोली, पिता ने अवैध संबंधों के लिेए किशोर बेटे की हत्या कर शव बेड में छिपाया

- in अपराध

रोहतक। समर गोपालपुर कलां गांव में अपने अवैध संबंधों के लिए एक पिता ने अपने साथियों के साथ मिलकर अपने किशोर बेटे धर्म की गला रेतकर हत्या कर दी और शव को बेड में ही छिपा दिया। किशोर की हत्या के बाद उसकी बड़ी बहन घर से भागकर पानीपत पहुंच गई और वहां पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी।बेटी बोली, पिता ने अवैध संबंधों के लिेए किशोर बेटे की हत्या कर शव बेड में छिपाया

उसने पुलिस को बताया कि उसके पिता तेजपाल ने ही दो साथियों के साथ मिलकर उसके भाई की गला रेतकर हत्या की है। इस पर पानीपत पुलिस ने रोहतक पुलिस को सूचना दी और युवती से बात भी कराई। इसके बाद टिटौली पुलिस चौकी से पुलिसकर्मियों ने गांव में पहुंचकर बेड से शव बरामद किया।

पुलिस के अनुसार युवती ने बताया कि उसके पिता का परिवार की ही एक महिला से अवैध संबंध हैं, जिसका दोनों भाई-बहन विरोध करते थे। युवती के मुताबिक हत्या में दो और लोग भी शामिल हैं। मौके पर पहुंचे डीएसपी नारायण चंद ने बताया कि धर्म के गले पर तेज धारदार हथियार के निशान थे, जबकि सिर पर भी धारदार हथियार  से वार किए गए थे।

पुलिस ने मृतक के माता-पिता से पूछताछ की, लेकिन वह कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। इसके कारण बेटी के आरोपों पर पुलिस ने उसके पिता को हिरासत में लिया है। वैसे पुलिस ने मकान के अंदर से खून से सनी एक चुन्नी और पाजामी भी बरामद की है जो युवती के बताए जा रहे हैं।

संदेह के दायरे में लड़की के बयान

जिस तरह युवती ने बयान दिया है वह खुद सवालों के घेरे में है। पुलिस के अनुसार युवती ने कहा है कि उसके पिता ने साथियों के साथ मिलकर भाई की हत्या कर दी और मुझे भी मारना चाहते थे। दोनों को पहले डंडों से पीटा गया, लेकिन वह किसी तरह बचकर भाग निकली। साथ ही उसने बताया कि बेड में भाई की लाश पड़ी है। ऐसे में सवाल यह है कि जब वह खुद जान बचाकर भागी है तो उसे कैसे पता कि लाश को बेड में छिपाया गया है।

वहीं जब हत्या को अंजाम दिया तो वह घर से बाहर निकलकर शोर भी मचा सकती थी, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। खास बात यह है कि उसे किसी ने गली में भागते हुए भी नहीं देखा। सदर थाना प्रभारी मनजीत कुमार का कहना है कि युवती ने पानीपत जाकर पूरे मामले की जानकारी दी है, जिसके बाद बेड से शव को बरामद कर लिया गया। फिलहाल सभी तथ्यों पर गहनता से जांच की जा रही है।