बेटे ने मंडप में कर दी ऐसी हरकत की, ससुर को करनी पड़ी अपनी बहु से शादी

- in अजब-गजब

जब बच्चे बड़े ही जाते हैं तो हर माँ-बाप को अपने बच्चो की शादी की फिक्र होने लगती हैं और वो अपने बच्चो की शादी उनके बिना रजामंदी से तय कर देते हैं| ऐसे में बच्चे माँ-बाप की दबाव और समाज का ख्याल करके बिना पसंद के लड़के या लड़की से शादी तो कर लेते हैं| लेकिन बाद में पति-पत्नी के बीच बिना वजह से लड़ाई-झगड़े होने लगते हैं| इसके अलावा पति अपने पत्नी को बिना वजह ही मारता-पीटता हैं| इतना ही नहीं वो मानसिक यंत्रणा भी देता हैं| इसके अलावा वो लड़की के घर वालो को भी अपशब्द बोलते हैं और उसके पूरे खानदान तक को भी कोस डालते हैं|बेटे ने मंडप में कर दी ऐसी हरकत की, ससुर को करनी पड़ी अपनी बहु से शादी

ऐसे में यदि आप इन मुसीबतों से बचना चाहते हैं तो आप इस समाज की परवाह किए हुये अपने मनपसंद की लड़की या लड़के से शादी करे क्योंकि ये समाज आपको बस चार दिन बोलेगी और कुछ समय बाद चुप हो जाएगी| यदि आप अपने पसंद से शादी करते हैं तो आपने शादीशुदा जीवन को बड़े अच्छे ढंग से चला सकते हैं| इससे आप भी खुस रहेंगे और आपकी पत्नी, परिवार वाले भी खुस रहेंगे| जिसकी वजह से आपके घर में ना किसी प्रकार का झगड़ा और ना ही गली-गलौज होगा| ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने वाले हैं जो सोशल मीडिया पर बढ़ी तेजी से वायरल हो रही हैं| आजकल सोशल मीडिया पर हर छोटी सी छोटी बात टूल पकड़ रही हैं|

आज कल ऐसी ही एक खबर सोशल मीडिया पर बहुत बवाल मचा रहा है। जी हाँ बिहार के समस्तीपुर ज़िले के रहने वाले 65 साल के रोशन लाल की ऐसी कौन सी मजबूरी थी कि जिसकी वजह से उन्हें उसे 21 साल की लड़की से शादी करना पड़ा। खास बात ऐसी शादी के बारे में सुनकर सभी हैरान हैं| आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि जब लोगों ने रोशन लाल से इस बारे में सवाल पूछना शुरु किया तो उन्होंने इस शादी को मजबूरी का हवाला दिया। अब यह बात लोगों को सोचने पर मजबूर कर रही हैं कि आखिर ऐसी कौन सी मजबूरी थी जो उन्हें यह कदम उठाने के लिए मजबूर किया|

 

दरअसल रोशन लाल के बेटे की शादी सपना नाम की लड़की से तय हुआ था और शादी की पूरी तैयारी भी हो गयी थी यहा तक बारात लड़की के दरवाज़े पर भी पहुंच गई थी लेकिन इस शादी में ऐसा मोड़ आया जब रोशन लाल का बेटा शादी के मंडप से भाग निकला और यही वजह रोशन लाल को सपना से शादी करने पर मजबूर किया|

आपको बता दें कि सपना के परिवार वालो का कहना था कि यदि बारात ऐसे ही लौट जाती तो उनकी समाज में बहुत बदनामी होती और वो समाज में मुंह दिखाने लायक नहीं होते| दरअसल रोशन लाल के बेटे ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह किसी और लड़की से प्यार करता था और वह अपने पिता यानि रोशन लाल के डर से शादी के लिए तैयार तो हो गया लेकिन वह शादी के मंडप तक नहीं पहुंच पाया। इसलिए दोनों परिवारों की इज्जत रखने के लिए रोशन लाल ने सपना से शादी करने का फैसला किया और इस शादी के लिए दोनों परिवार वालों ने सहमति जताई और उन्होने सपना से शादी कर ली। अर्थात आप यह कह सकते हैं कि गए थे बहूँ लेने और लेकर पत्नी को आ गए|