भारत के विदेश राज्यमंत्री अकबर पर लगें गंभीर आरोप, केबिन में महिलओं को बुलाकर जकड़ लिया और जबरन किया किस

भारत के विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर पर कुछ महिलाओं ने संपादक रहने के दौरान यौन शोषण के आरोप लगाए हैं. फोर्स न्यूज मैगजीन की एग्जेक्यूटिव एडिटर गजाला वहाब ने बतौर इंटर्न 1994 में एशियन एज अखबार ज्वाइन किया था. गजाला ने भी तब अखबार के एडिटर रहे एमजे अकबर पर ऑफिस में यौन शोषण के आरोप लगाए हैं. द वायर के लिए लिखे लेख में उन्होंने विस्तार से बताया है कि किस तरह अकबर बार-बार उनका यौन शोषण करते थे. भारत के विदेश राज्यमंत्री अकबर पर लगें गंभीर आरोप, केबिन में महिलओं को बुलाकर जकड़ लिया और जबरन किया किस

गजाला ने लिखा है कि ऑफिस में उनका तीसरा साल था, तभी अकबर की नजर उन पर पड़ी. उनका डेस्क अकबर के केबिन के सामने शिफ्ट कर दिया गया. अकबर अक्सर उन्हें घूरते रहते और अश्लील मैसेज भेजते.
इसके बाद अकबर ने उन्हें अक्सर अपने केबिन में बुलाना शुरू कर दिया. गेट बंद कर लेते. ज्यादातर निजी बातचीत करते. कई बार वे कॉलम लिख रहे होते और सामने बैठने को कहते ताकि जरूरत पड़ने पर डिक्शनरी से उनके लिए वो शब्द देखें. स्टैंड पर रखी डिक्शनरी को देखने के लिए झुकना होता था.
गजाला लिखती हैं-1997 की बात है. डिक्शनरी देखने के दौरान ही एक बार अकबर ने पीछे से आकर उन्हें जकड़ लिया. ऊपर से नीचे तक छुआ. उन्होंने छुड़ाने की कोशिश की, लेकिन अकबर प्लास्टर की तरह चिपके रहे.
अकबर इस दौरान केबिन का दरवाजा भी ब्लॉक करके रखते थे. गजाला लिखती हैं कि वे इसके बाद टॉयलेट में जाकर रोती रहीं. अगली शाम अकबर ने फिर उन्हें केबिन में बुलाया और दरवाजा बंद करके किस किया. वो खुद को छुड़ाने के लिए संघर्ष करती रहीं. ऑफिस से बाहर आकर पार्किंग वाली जगह में बैठकर रोईं.

बाद में गजाला ने जब अकबर को शिकायती मैसेज भेजा तो अकबर ने उन्हें केबिन में बुलाया और लेक्चर देने लगे कि किस तरह वो उन्हें अपमानित कर रही हैं और उनके इमोशन को गलत समझ रही हैं.
एक बार अकबर ने अपने एक प्राइवेट एस्ट्रोलॉजर को यह कहने के लिए भेजा कि अकबर गजाला के साथ सच्चा प्यार करते हैं. गजाला तब इतनी डर गई थीं कि उन्हें लगा कि अगर वह विरोध करेंगी तो क्या उनका रेप किया जाएगा? वो पुलिस के पास जाना चाहती थीं, लेकिन डरकर नहीं गईं. अकबर उन्हें अहमदाबाद भेजना चाहते थे और घर देने की बात भी कही. लेकिन इससे ठीक पहले गजाला ने इस्तीफा दे दिया.