भारत में बैन हो सकते हैं आई फोन, ट्राई ने बढ़ाई एप्पल की मुश्किलें


नई दिल्ली : टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने फेक कॉल्स और स्पैम मैसेज रोकने को लेकर दूरसंचार कंपनियों के लिए नए नियमों की घोषणा की है। इसी के साथ यह भी बताया जा रहा है कि ट्राई एप्पल के साथ चल रही जंग को लेकर सख्त फैसला ले सकता है। कहा जा रहा है कि ट्राई एयरटेल, वोडाफोन जैसे टेलिकॉम ऑपरेटर को नोटिस जारी करके एप्प्ल का रेजिस्ट्रेशन रद्द कर सकता है। टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई ) ने फेक कॉल्स और स्पैम मैसेज रोकने को लेकर दूरसंचार कंपनियों के लिए नए नियमों की घोषणा की है। इसी के साथ यह भी बताया जा रहा है कि ट्राई एप्पल के साथ चल रही जंग को लेकर सख्त फैसला ले सकता है। कहा जा रहा है कि ट्राई एयरटेल, वोडाफोन जैसे टेलिकॉम ऑपरेटर को नोटिस जारी करके एप्प्ल का रेजिस्ट्रेशन रद्द कर सकता है। टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने फेक कॉल्स और स्पैम मैसेज रोकने को लेकर दूरसंचार कंपनियों के लिए नए नियमों की घोषणा की है। इसी के साथ यह भी बताया जा रहा है कि ट्राई एप्पल के साथ चल रही जंग को लेकर सख्त फैसला ले सकता है। कहा जा रहा है कि ट्राई एयरटेल, वोडाफोन जैसे टेलिकॉम ऑपरेटर को नोटिस जारी करके एप्प्ल का रेजिस्ट्रेशन रद्द कर सकता है।

दरअसल, एप्पल और ट्राई के बीच जारी जंग ट्राई के डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप को लेकर है। ट्राई ने आइफोन यूजर्स के लिए डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप के नए वर्जन DND 2.0 ऐप डिजाइन किया है, जिसे एप्पल ने अपने ऐप स्टोर पर लिस्ट नहीं किया है। ट्राई चाहता है कि एप्पल इस ऐप को अपने स्टोर पर लिस्ट करे, ताकि यूजर्स के स्पैम कॉल्स और मैसेज को फिल्टर किया जा सके। वहीँ एप्पल का कहना है कि ट्राई का डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप यूजर्स के कॉल्स और मैसेज रिकॉर्ड करने की अनुमति मांगता है, जिसकी वजह से यूजर्स के लिए प्राइवेसी सिक्योर नहीं रहती है। इसके साथ ही एप्पल का कहना था कि वो ट्राई के ऐप की जगह खुद का इन-हाउस ऐप बनाएंगे।

ट्राई की नई गाइडलाइन्स के मुताबिक, देश के सभी टेलिकॉम ऑपरेटर्स अगले 6 महीने के अंदर ये सुनिश्चित करें की उनके नेटवर्क पर सभी रेजिस्टर्ड डिवाइस पर डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप के 2.0 वर्जन को रेग्यूलेशन के नियम 6(2)(e) और 23(2)(d) के तहत नेटवर्क की अनुमति मिले. अगर, किसी भी टेलिकॉम ऑपरेटर पर रजिस्टर्ड डिवाइस पर इस ऐप की अनुमति नहीं मिलती है तो उसे रेगुलेशन के नियम 6(2)(e) और 23(2)(d) के तहत टेलिकॉम नेटवर्क से रेजिस्ट्रेशन कैंसल कर दिया जाएगा। फिलहाल डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप का 2.0 वर्जन सिर्फ एंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध है और अगर Apple ट्राई के इस फैसले को नहीं मानता है तो उनका डिवाइस टेलिकॉम नेटवर्क (3G/4G) से रेजिस्ट्रेशन कैंसल किया जा सकता है। फिलहाल डू-नॉट-डिस्टर्ब (DND) ऐप का 2.0 वर्जन सिर्फ एंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध है। और अगर Apple ट्राई के इस फैसले को नहीं मानता है तो उनका डिवाइस टेलिकॉम नेटवर्क (3G/4G) से रेजिस्ट्रेशन कैंसल किया जा सकता है।