भूलकर भी कभी शिवलिंग पर नहीं चढ़ानी चाहिए यह पांच चीजें, वरना हमेशा के लिए हो जाएगे बर्बाद

धर्म: शिवपुराण के अनुसार, वो पांच चीजें जो शिवलिंग पर भूल कर भी नहीं चढ़ानी चाहिए  : देवों के देव महादेवजी को कोटि कोटि वंदन करते हुए उनके गुणों की चर्चा करते हुए हम उनके अप्रिय चीजों के बारे में लेखन चाहेंगे जिसकी जानकारी हमें भी इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त हुई है .

भगवान शिव जो की दया के सागर हैं वें प्रसन्न होते ही भक्तों के वारे न्यारे कर देते हैं याने की भक्तों के सभी कष्ट हर लेते हैं और खुशियों से अपने भक्तोंजनो का जीवन भरपूर कर देते हैं .

हिन्दू धर्म में सभी देवी-देवताओं को प्रसन्न करने, उनकी आराधना करने के विशिष्ट तरीकों का वर्णन किया गया हैं. कुछ ऐसी सामग्रियां और विधियां होती हैं जो अराध्य देव को बहुत पसंद होती हैं, उनकी पूजा में उन सामग्रियों द्वारा हमें मनवांछित फल प्रदान करती है.

समस्या का कारण

लेकिन कुछ ऐसी सामग्रियां और विधियां भी होती हैं जिनका प्रयोग करना से हमें उलटा परिणाम प्राप्त हो सकते है. जहां कुछ चीजें आराध्य देवी-देवताओं को बेहद प्रिय होती हैं वहीं कुछ उन्हें चीजे नापसंद भी होती हैं, ऐसे में अगर उन्हें वे नापसंद चीजें अर्पित की जाएं या उनकी पूजा में उन सामग्रियों का प्रयोग किया जाए तो यह समस्या का कारण बन सकता है.

भोलेनाथ

भगवान शिव जिन्हें संघारकर्ता और पालनकर्ता भी कहा जाता है. जहां वे अपने भक्तों से बहुत ही जल्दी प्रसन्न होते हैं तो वही क्रोधवश बहुत जल्दी रौद्र रूप भी धारण कर लेते हैं.

भांग-धतूरे और बेलपत्र का चढ़ावा

आप ये बात तो जानते ही हैं भगवान शिव को भांग-धतूरे और बेलपत्र का चढ़ावा बहुत प्रिय है, आज हम आपको कुछ ऐसी सामग्रियां बताएंगे जिनका चढ़ावा भगवान शिव की आराधना के दौरान बिल्कुल नहीं करना चाहिए.

शिवपुराण

शिवपुराण के अनुसार शिव भक्तों को कभी भी भगवान शिव यानि उनके शिव लिंग पर इन पांच सामग्रियों का चढ़ावा या प्रसाद नहीं चढ़ाना चाहिए. चलिए आगे जानते हैं, कौन कौन से है वो पांच चीजें जो शिव लिंग पर भूल कर भी नहीं चढ़ानी चाहिए.