‘मर चुके’ वीगर मुस्लिम कवि का वीडियो आया सामने

- in अजब-गजब

चीन में मृत माने जा रहे वीगर मुस्लिम कवि अब्दुर्रहीम हेयीत का वीडियो सामने आया है. चीन की सरकारी मीडिया पर दिखाए गए इस वीडियो में अब्दुर्रहीम कह रहे हैं कि उन्हें कभी प्रताड़ित नहीं किया गया. इससे पहले कुछ रिपोर्टों में ऐसा दावा किया गया था कि डिटेंशन कैंप में रहने के दौरान अब्दुर्रहीम की मौत हो गई. 10 फरवरी को रिकॉर्ड किए गए वीडियो में एक शख्स कह रहा है कि उसका स्वास्थ्य अच्छा है. हालांकि, कई वीगर लोगों ने इस वीडियो की सत्यता पर सवाल उठाए हैं.

'मर चुके' वीगर मुस्लिम कवि का वीडियो आया सामने चाइना रेडियो इंटरनेशनल की तुर्की सेवा की ओर से ये वीडियो जारी किया गया है. वीडियो के मुताबिक, अब्दुर्रहीम स्वीकार करते हैं कि राष्ट्रीय कानूनों के कथित उल्लंघन के मामले में वे जांच का सामना कर रहे हैं. अमेरिका स्थित वीगर ह्यूमन राइट प्रोजेक्ट के चेयरमैन नूरी तरकेल ने कहा है कि वीडियो में कुछ चीजें संदिग्ध हैं. वीगर तुर्की भाषा बोलने वाले मुस्लिम अल्पसंख्यक हैं.

ज्यादातर वीगर चीन के उत्तरी पश्चिमी जिनजियांग क्षेत्र में रहते हैं. हाल के सालों में तुर्की से चीन में आकर बसने वाले वीगर की संख्या भी अच्छी खासी है. यहां चीनी अधिकारी कड़ी निगरानी रखते हैं.

इससे पहले तुर्की ने कहा था कि चीन डिटेंशन कैंप को बंद करे. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 10 लाख वीगर मुस्लिमों को कथित तौर से हिरासत में रखा गया है. तुर्की के विदेश मंत्रालय ने ये भी कहा था कि हिरासत में लिए गए वीगर को प्रताड़ित किया जा रहा है. तुर्की के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हामी अक्सॉय ने कहा था कि अब्दुर्रहीम की मौत चीन के जिनजियांग में मानवाधिकारों के हनन के गंभीर सवालों को मजबूत करती है. चीन ने तुर्की की प्रतिक्रिया को अस्वीकार्य बताया था.