महिलाओं के लिए नहीं बल्कि पुरुषों के लिए बनाई गई नेपकिन

- in अजब-गजब

दुनिया में कुछ एसी चीजें भी है जिनके बारे में हम अकसर गलत सोचते हैं। कुछ देखकर ये सोचा जाता है कि ये तो बस लड़कियों के लिए ही बनाईं गई हैं, पुरूषों के लिए नहीं । अगर ऐसा है तो ये बिल्कुल गलत हैं।
क्या आपने कभी सोचा होगा कि सेनिटरी नेपकिन और ईयरिंग लड़कियों के लिए नहीं बल्कि लड़कों के लिए बनाई गई थी। हम जिन चीजों को अपना समझते हैं और कभ बार लड़कों को वो सब पहने देख उनका मजाक उड़ातें हैं, असल में ये सब लड़कियों के लिए बनाई गई थी।

आज हम आपको ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको बनाया तो पुरूषों के लिए था, लेकिन धीरे-धीरे उसका प्रयोग महिलाएं करने लगी:-

1. सेनिटरी नेपकिन: फ्रांस में एक युद्ध को दौरान नर्सों ने सेनिटरी नेपकिन बनाया था। सैनिकों के ब्लीडिंग को रोकने के लिए ये बनाया गया था, जिसे आज महिलाएं इस्तेमाल कर रही हैं।

2. हाई हील: आपको बता दे कि फारसी आर्मी के योद्धा घोड़े पर चढ़ने के लिए हाई हील का प्रयोग करते थे, जिसे आज महिलाओं ने अपना फैशन सिंबल बनाया है।

3. पिंक कलर: पिंक को हमेशा लड़कियों के कलर के साथ ही जोड़ा जाता है। लड़कों के पहने पर उनका मजाक उड़ा जाता हैं। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि 18वीं सदी तक गुलाबी रंग, लाल रंग का एक रूप माना जाता था, जिसे युद्ध से जोड़कर देखा जाता था।

4. ईयररिंग: सबसे पहले ईयररिंग पर्सेपोलिस, फारसी पुरुषों ने पहना था। वहां के महलों में मौजूद नक्काशियों में फारसी सौनिकों के कान में ईयररिंग्स नजर आते हैं। जो आज सबसे ज्यादा महिलाएं पहनती हैं।

5. थॉन्ग्स (पैंटी): ये सबसे पहले पुरुषों द्वारा पहना गया था. इसका प्रयोग पुरुषों के जननांगों की रक्षा करने, उनका सपोर्ट करने या उन्हें छुपाने के लिए किया जाता था।