# मी टू : अभिनेत्री नंदिता दास के पिता पर यौन शोषण का आरोप, पीड़िता ने सुनाई आपबीती

# मी टू के तहत फिल्म इंडस्ट्री, मीडिया, राजनीति से जुड़ी महिलाएं अपने यौन शोषण का दर्द बयां कर रही हैं, अब तक फिल्म डायरेक्टर रजत कपूर, विकास बहल, एक्टर आलोकनाथ, सिंगर कैलाश खेर, राइटर चेतन भगत, पत्रकार एमजे अकबर और सुभाष घई समेत कई दिग्गज यौन शोषण का आरोप लग चुका हैं।

नई दिल्ली : कागज का कारोबार करने वाली एक कंपनी की को-फाउंडर महिला ने मंगलवार को दावा किया कि मशहूर चित्रकार जतिन दास ने 14 साल पहले उसका यौन शोषण किया था। दास ने आरोपों को ‘अश्लील’ बताते हुए खारिज कर दिया। दास देश में जोर पकड़ चुके ‘मी टू’ अभियान के तहत यौन शोषण के आरोपों का सामना करने वाली सबसे नयी चर्चित हस्ती हैं। निशा बोरा नाम की महिला ने ट्विटर पर दास से जुड़ी अपनी घटना की जानकारी साझा की। उसने कहा कि वह तब 28 साल की थी और दास ने एक रात्रिभोज कार्यक्रम के दौरान उससे पूछा कि क्या उनके सामान को व्यवस्थित करने में मदद के लिए उसके पास समय और इच्छा है और जब उसने प्रस्ताव स्वीकार कर लिया तो काम के दूसरे दिन दास ने खिड़की गांव स्थित अपने स्टूडियो में उसका यौन उत्पीड़न किया। निशा ने ट्विटर पर लिखा, उन्होंने मुझे पकड़ने की कोशिश की, मैं उनसे बचकर निकल गई, गुस्सा दिखाया। इसके बाद उन्होंने फिर से ऐसा किया। मैंने उन्हें धक्का दिया और उनसे दूर चली गई। निशा ने कहा, उस समय उन्होंने कहा, अरे, अच्छा लगेगा, या ऐसा ही कुछ कहा था। मुझे यह याद है कि जब मैं पीछे हट रही थी, उन्हें इस पर विश्वास नहीं हो रहा था। मैंने अपना झोला उठाया और घर के लिए भागी, इसके बारे में कभी बात नहीं की, अब कर रही हूं। उसने अपने एक दूसरे ट्वीट में यह भी लिखा, दो दिन बाद दास की बेटी और मशहूर फिल्म एक्टर-डायरेक्टर नंदिता दास ने उसे फोन किया और पूछा कि क्या वह (अपनी जैसी ही) कोई दूसरी महिला सहायक ढूंढ़ने में उनकी मदद कर सकती हैं। निशा ने कहा कि उन्होंने (नंदिता) मुझे अपने बारे में बताया और कहा कि उनके पिता ने उन्हें मेरा फोन नंबर दिया था, आज उस आदमी की बेशर्मी से मुझे घुटन हो रही है। हालांकि पेंटर ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि आजकल लोगों के खिलाफ आरोप लगाने का एक ‘खेल’ चल रहा है जिसका मकसद केवल ‘मौज’ लेना है, उन्होंने अपने खिलाफ लगाए गए आरोपों को ‘अश्लील’ बताया। गौरतलब हैं कि बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर के आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर # मी टू कैंपेन शुरू हो गया है। इसके तहत फिल्म इंडस्ट्री, मीडिया, राजनीति से जुड़ी महिलाएं अपने यौन शोषण का दर्द बयां कर रही हैं, अब तक फिल्म डायरेक्टर रजत कपूर, विकास बहल, एक्टर आलोकनाथ, सिंगर कैलाश खेर, राइटर चेतन भगत, पत्रकार एमजे अकबर और सुभाष घई समेत कई दिग्गज यौन शोषण का आरोप लग चुका हैं।