मुख्यमंत्री केजरीवाल की विधानसभा में हाजिरी 10 फीसदी से भी कम, वेतन काटने की मांग

दिल्ली : उच्च न्यायलय ने विधायक कपिल मिश्रा को अरविंद केजरीवाल के खिलाफ याचिका दायर करने की इजाजत दे दी है, जिसमें उन्होंने केजरीवाल के खिलाफ दिल्ली विधानसभा में 10 फीसदी से भी कम हाजिर रहने का आरोप लगाया है। कपिल मिश्रा ने याचिका में कहा है कि अरविंद केजरीवाल की विधानसभा में हाजिरी 10 फीसदी से भी कम है, इसलिए उनकी सैलरी काटी जानी चाहिए। हाईकोर्ट मंगलवार को मिश्रा की याचिका पर सुनवाई करेगा। कपिल मिश्रा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल दिल्‍ली को पूर्ण राज्‍य का दर्जा देने के अलावा सीलिंग के मुद्दे पर आयोजित लगभग सभी विशेष सत्रों में गैर-हाजिर रहे हैं। वे वहां सिर्फ दो घंटे के लिए ही मौजूद रहे, यह जनादेश का अपमान है, अगर वे विधानसभा में नहीं आ रहे हैं तो उनका वेतन काटा जाना चाहिए। कपिल मिश्रा ने कहा कि हाईकोर्ट को उन्हें विधानसभा में हाजिर रहने के आदेश देने चाहिए। इसके साथ ही एलजी और स्पीकर को मुख्यमंत्री की हाजिरी को लेकर ध्यान रखने की बात कही गय्ये है।