मोदी, योगी का निवेश मेगा शो

राजधानी लखनऊ में इंवेस्टर्स समिट-2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित करते हुये कहा कि इंवेस्टर्स समिट देश के इतिहास का बडा परिवर्तन है। इसके लिए मैं सभी को बहुत बहुत बधाई देता हूं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि  उद्योगों को तय समय सीमा में आनलाइन अनुमति मिल जायेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि योगी सरकार गम्भीरता से किसानों, महिलाओं से किया गया वादा पूरा कर रही है। प्रदेष में 60 फीसद जनता कामगार लायक है। जो यूपी को नई ऊंचाइयों की ओर ले जायेगा। अब यूपी में सुपरहिट परफारमर्स देने के लिये यहां का हर बच्चा-बच्चा तैयार है। न्यू इंडिया न्यू उत्तर प्रदेश के निर्माण के लिये नये निवेश की भी आवश्यकता है। मोदी ने कहा कि बदलाव होता है, तो सामने दिखता है। प्रदेश में इतने व्यापक स्तर पर इन्वेस्टर समिट होने के साथ इस इन्वेस्टर समिट में इतने निवेशकों और उद्यमियों का एकजुट होना, अपने आप में एक बड़ा परिवर्तन है। भाजपा सरकार से पहले की स्थितियों के बारे में यूपी के लोगों से बेहतर कौन जानता है। प्रदेष के विकास का जो माहौल आज मिला है। इसकी कभी उम्मीद नहीं थी, लेकिन योगी सरकार ने जो पॉजीटिव माहौल दिया है वह काबिले तारीफ है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पुरानी कहावत है कि कोस-कोस में बदले पानी, सोलह कोस में बानी। उन्होंने प्रदेष की तारीफ करते हुए कहा कि मलिहाबाद के आम, भदोही की कालीन, बनारस की जरदोजी, फिरोजाबाद का कांच, आगरा का पेठा, कन्नौज का इत्र, आयोघ्या में राम की लीला तो मथुरा की कृष्ण लीला सभी कुछ है। मोदी ने कहा कि आज इस अवसर पर मैं महत्वपूर्ण घोषणा भी करने जा रहा हूं। इस वर्ष बजट में प्रस्ताव रखा गया था कि देश में दो डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर्स का निर्माण किया जाएगा। इनमें एक यूपी में प्रस्तावित है। बुंदेलखंड के विकास को विशेष तौर पर ध्यान में रखते हुए अब तय किया गया है कि यूपी में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का विस्तार आगरा, अलीगढ़, लखनऊ, कानपुर, झांसी और चित्रकूट तक होगा। उड़ान योजना के तहत 11 शहरों में हवाई अड्डों का विकास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेरा सपना है कि हवाई चप्पल पहनने वाला हवाई जहाज में यात्रा करे। प्रदेष में ईस्टर्न और वेस्टर्न कारीडोर से परिवहन की व्यवस्था को मजबूत किया जा रहा है। वाराणसी हल्दिया के बीच वाटर परिवहन को भी मजबूत किया जा रहा है। जो यूपी को इक्कीसवीं सदी में नई बुलंदियों पर लेकर जायेगा। जिससे यूपी के विकास के साथ ही यहां पर रोजगार की भी सम्भावनायें बढ़ेंगी। टूरिज्म के विकास को भी बेहतर तरीके से काम करेगा। जिससे यूपी नंबर बन जायेगा नई पर्यटन को भी इंडस्ट्री का दर्जा दिया गया है। अगले साल इलाहाबाद में महाकुम्भ का आयोजन हो रहा है जो बहुत बड़ा आयोजन है। इससे रोजगार की भी अपार सम्भावनायें हैं। हमें इसकी अंतरर्राष्ट्रीय ब्रांडिग करनी होगी। यहां पुराने समय से लेकर आज यूपी अनाज गेहूं गन्ने दूध आलू के उत्पादन में नंबर एक पर है। यूपी देश में यहां पर विपरीत परिस्थितियों के बाद भी यूपी के भाई बहनों ने काम किया है। सवाल यह है कि आगे क्या है। क्या यूपी अपने ताकत से पूरा न्याय कर रहा है। आज हर क्षेत्र में यूपी का वैल्यू एडीशन की जरूरत है। यहां पर योगी के सरकार की नीतियां और उन पर काम किया जा रहा है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लोगों को चार लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का लोन दिया जा चुका है वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट को प्रोत्साहित करना है। हमें मार्केटिंग को भी आगे बढ़ाना होगा। खेती से जुड़ी बड़ी समस्या है कि हर साल 190 करोड़ की सब्जी सड़ जाती है और किसान भाइयों को इसका नुकसान हो रहा है। आलू उत्पादन में यूपी नंबर एक पर है हमें इनके उत्पाद को चिप्स उद्योगों तक पहुंचाने के लिये रोडमैप बनाकर किसान इंडस्ट्री को कनेक्ट करना होगा।

दूध उत्पादन में भी यूपी नंबर एक है। किसानों की फसल को बर्वादी को रोकने के लिये प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना लायी गई है। फूड प्रोसेसिंग को भी मंजूरी प्रदान कर रही है। एग्रीकल्चर उत्पाद और वेस्ट को हमें आगे बढ़ाना है। अभी मैंने प्रर्दशनी में बहुत ही बढि़या तकनीक देखा है। जिसके माध्यम से देखा है। उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों में पहले कौन ट्रिलियन डालर की इकोनामी का लक्ष्य हासिल कर सकता है। जितनी जीडीपी ग्रो करेगा उसका उतना ही विकास होगा, रोजगार मिलेगा। लघु माध्यम उद्योगों को भी रोजगार की सबसे ज्याद संभावना है। 50 लाख लघु उद्योग है। जिसमें लाखों लोग काम कर रहे हैं। देश में कई ऐसे सेक्टर है जो इस क्षेत्र में काम कर रहे हैं। उनकी आय बढ़ानी है। मैं यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के उनके सहयोगियों, यहां की ब्यूरोक्रेसी, यहां की पुलिस और उत्तर प्रदेश की जनता को बधाई देता हूं कि वो अपने उत्तर प्रदेश को इतने कम समय में समृद्धि और विकास के रास्ते पर ले आई है। नकारात्मकता भरे उस माहौल से राज्य को सकारात्मकता की तरफ लाना, हताशा.निराशा अलग करके उम्मीद की किरण जगाने का काम योगी सरकार ने किया है। प्रधानमंत्री ने अपनी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुये कहा कि तक 18 करोड़ से अधिक गरीबों का बीमा कराया गया है। छह करोड़ से ज्यादा शौचालय बनवाये गये हैं। उज्ज्वला योजना को बढ़ाकर आठ करोड़ कर दिया गया है। चार करोड़ लोगों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया जा रहा है। गरीब परिवार को बीमारी के इलाज के लिये पांच करोड़ रूपये दिये जा रहे है।


वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अभी कुछ दिन पहले प्रदेष का बजट 4.28 लाख करोड़ का बजट पारित किया और बताते हुए हमें हर्ष हो रहा है कि इन्वेस्टर्स समिट में भी अब तक 4.28 लाख करोड़ रुपये के 1045 एमओयू साइन हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी लोगों को स्वागत करते हुये कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता है उसके लिये सुशासन चाहिये। उत्तर प्रदेश को बीमारू राज्य से उबारकर देश का सबसे अच्छा प्रदेश बनाना है। हमने कई सेक्टर तैयार किये हैं जिसमें फिल्म टेलीविजन, एग्रीकल्चर, इलेक्ट्रानिक उत्पाद बनाना है।
किसी भी विकास के लिये सुरक्षा, इंफ्रास्ट्रक्चर का माहौल होना चाहिये। यूपी सरकार ने इन 11 महीनों में कानून का राज स्थापित किया है। देश के अंदर 99 शहरों में 10 शहर यूपी के है। कानपुर वाराणसी गोरखपुर इलाहाबाद में मेट्रो चलाने का प्रयास है। उद्योगों की स्थापना का उद्देश्य रोजगार की सम्भावना है। हमारा लक्ष्य तीन सालों में 40 लाख रोजगार देना है। इसके लिये उद्योगपतियों का समूह बनाया गया है।
इसके अलावा कुटीर उद्योग और वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट को लेकर हम लगातार काम कर रहे हैं। पूर्वी भारत से यूपी को जोडने के लिये हम एक्सप्रेस वे का निर्माण कर रहे हैं। हम सभी जिलों को भी सड़कों को आपस में जोड़कर रोजगार देने के लिये प्रतिबद्ध है। पावर फार आल उज्ज्वला योजना काम कर ही है। हमारे पास बड़ी संख्या में युवा उर्जा उपलब्ध है। जिसकी साठ प्रतिशत जनसंख्या है। यूपी देश का सबसे बड़ा और समृद्ध राज्य है। हम नई पर्यटन नीति पर काम कर रहे हैं जिससे लोग आगे आ सकें। 500 फार्च्यून कंपनियां यहां उपस्थित है। अब तक एक हजार 45 संख्या है। 428 हजार करोड़ के एमओयू साइन किया है। हर एमओयू की समीक्षा मैं अपने स्तर पर करूंगा। उन्होंने कहा कि हम सबसे पहले छोटा भारत मारीशस की ओर से सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं। भारत और मारीशस के बीच खून का रिश्ता है। नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनने से यह रिश्ता और मजबूत हो गया है। यहीं से हमारे पूर्वज मारीशस गये थे। मैं यहां से समाजिक आर्थिक और व्यापारिक रिश्ता बनाना चाहता हूं। मॉरीशस के रक्षा मंत्री तथा प्रधानमंत्री के सलाहकर अनिरुद्ध जगन्नाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी तथा सीएम योगी आदित्यनाथ का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मॉरीशस को इस कार्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए धन्यवाद। उन्होंने कहा कि भारत और मॉरीशस के बीच खून का रिश्ता है।