यूपी बोर्ड से छात्रों का मोहभंग, 8 लाख कम आए आवेदन

- in उत्तर प्रदेश


इलाहाबाद : 2019 में यूपी बोर्ड की प्रस्तावित हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा में साढ़े आठ लाख परीक्षार्थी घट गए हैं। गुरुवार रात 12 बजे 10वीं-12वीं परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि समाप्त हो गई। 10वीं में 32,03,041 और 12वीं में 25,84,957 कुल 57,87,998 छात्र-छात्राओं का पंजीकरण हुआ था। पिछले साल यह संख्या 66.39 लाख थी। इस प्रकार परीक्षार्थियों की संख्या में 8.52 लाख की कमी आई है। पहले 10वीं-12वीं के रजिस्ट्रेशन की तारीख 20 अगस्त तय थी। उस समय तक हाईस्कूल में 31.56 लाख और इंटर में 24.90 लाख छात्र-छात्राओं का पंजीकरण हुआ था। लेकिन बाद में कई स्कूलों ने रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि बढ़ाने का अनुरोध किया था।

इसके बाद बोर्ड ने 6 सितंबर तक तारीख बढ़ा दी थी। माना जा रहा है कि नकल पर सख्ती और आधार की अनिवार्यता आदि के कारण बोर्ड परीक्षार्थियों की संख्या में कमी आई है। सख्ती का ही नतीजा था कि 2018 की बोर्ड परीक्षा 10 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं ने बीच में ही छोड़ दी थी। वहीँ यूपी बोर्ड से जुड़े प्रदेश के तकरीबन 27 हजार स्कूलों में 2018-19 शैक्षणिक सत्र में कक्षा 9 व 11 में 53 लाख छात्र-छात्राओं ने दाखिला लिया है। बोर्ड की वेबसाइट पर कक्षा 9 व 11 के अग्रिम पंजीकरण की आखिरी तारीख 6 सितंबर थी। कक्षा 9 में 29,98,703 और 11 में 2360114 छात्र-छात्राओं के प्रवेश की सूचना मिली है। पहले अग्रिम पंजीकरण की अंतिम तिथि 25 अगस्त तक 9वीं में 2966345 और 11वीं में 2279563 (कुल 5245908) विद्यार्थियों का रजिस्ट्रेशन हुआ था।

सभी बॉलीवुड तथा हॉलीवुड मूवीज को सबसे पहले फुल HD Quality में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें