ये है राजा अकबर के वंशज, जो आज भी देश में जीते है शाही जिंदगी

यूँ तो हमारे भारत देश के इतिहास में नाजाने कितने ही राजा आये और गए, लेकिन आज जिस राजा के बारे में हम बात करने जा रहे है, उसका जिक्र अक्सर आपने कई सीरियल्स और फिल्मो में भी देखा होगा. जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हम यहाँ किसी और राजा की नहीं बल्कि अकबर की बात कर रहे है. गौरतलब है कि अकबर एक ऐसा राजा था जिसने भारत पर कई सालो तक राज किया. वैसे आपको जान कर हैरानी होगी कि अकबर का जन्म तो भारत में हुआ था, लेकिन वह पूर्ण रूप से विदेशी था. हालांकि अकबर के चरित्र के बारे में कई बातें जानने के बाद यह तय करना मुश्किल है कि वह एक अच्छा राजा था या बुरा राजा था.

गौरतलब है कि अकबर एक ऐसा राजा था जिसने मुस्लिम लोगो के प्रति सब का नजरिया ही बदल दिया था. मगर जैसे जैसे समय बीतता गया, वैसे वैसे भारत में मुगलो का राज भी खत्म होता चला गया और राजगद्दी की प्रथा भी खत्म हो गई. हालांकि आपको जान कर ताज्जुब होगा कि अकबर के वंशज आज भी जिन्दा है. यक़ीनन यह बात सुनने में काफी अजीब सी लगती है लेकिन ये सच है. जी हां आप सोच रहे होंगे कि अकबर का नाम तो इतिहास के पन्नो में दर्ज हो चुका है. तो अब उनके वंशज आज के समय में कहा से आ गए. बरहलाल अकबर के वंशज के बारे में जानने के लिए आपको यह पूरी खबर विस्तार से पढ़नी होगी.

गौरतलब है कि अकबर की बारहवीं पीढ़ी यानि 1857 के राजा बहादुर शाहजफर तीसरी पीढ़ी के पोते जिनका पूरा नाम राजकुमार याकूब जिआउद्दीन है. जिन्हे भारत सरकार द्वारा भी औपचारिक रूप से प्रमाण पत्र मिल चुका है. जी हां इस प्रमाण पत्र से यह साबित होता है कि वही मुग़ल वंश की अगली पीढ़ी के राजा है. वैसे आपको जान कर हैरानी होगी कि भारत सरकार द्वारा इन्हे कड़ी सिक्योरिटी भी दी जा रही है. हालांकि ये मुग़ल वंश के राजा है या नहीं इस बात में कितनी सच्चाई है ये कोई नहीं जानता. मगर फिर भी अब जब इन्हे भारत सरकार द्वारा प्रमाणिकता मिल चुकी है, तो कोई इनके सामने नहीं बोल सकता.

गौरतलब है कि ये सब अपने आलीशान महल जैसे घर में रहते है. इसके साथ ही इनके बहुत सारे फार्म हाउस और जमीने भी है. अब यूँ तो पहले के समय में फार्म हाउस नहीं होते थे, लेकिन आज के समय में फार्म हाउस का होना कोई बड़ी बात नहीं है. जी हां वैसे भी इनके वंशज भले ही पुराने हो, लेकिन ये आज की पीढ़ी के राजा है. गौरतलब है कि आज इनके पास भले ही राजगद्दी न हो, लेकिन फिर भी इनकी जिंदगी किसी राजा से कम नहीं है.

जी हां ये अपनी जिंदगी राजा की तरह ही बिताते है. इसके इलावा ये कई तरह के व्यापार भी करते है और इनका व्यापार कई देशो में भी फैला हुआ है. यहाँ तक कि ये लोग भारत सरकार पर केस करके अपने पूर्वजो का किला और सब कुछ वापिस ले सकते है. मगर इनका कहना है कि भारत सरकार इनके पूर्वजो की संपत्ति का अच्छे से ध्यान रख रही है.