योगी आदित्यनाथ ने किया ऐलान- यमुना की सफाई में नहीं आने देंगे कोई कमी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि उनकी सरकार यमुना की सफाई में कोई कमी नहीं आने देगी. वृंदावन में अक्षय पात्र के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए योगी आदित्यनाथ ने बृज धाम के लिए लगभग 300 करोड़ रुपये की 41 परियोजनाओं का शिलान्यास किया.

योगी ने घोषणा की कि जल्द ही मथुरा में यमुना नदी में मिलने वाले गंदे नालों को रोका जाएगा जिसके लिए सरकार ने एसटीपी परियोजना की मंजूरी दे दी है. साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने दिल्ली सरकार से भी यह अपील की है कि वह दिल्ली में बहने वाली यमुना में मिलने वाले गंदे नाले को रोके.

जन्माष्टमी पर बिजली से सजाया जाएगा मथुरा- वृंदावन

वृंदावन दौरे पर आए योगी ने घोषणा की कि इस बार कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर पूरे मथुरा-वृंदावन को बिजली से जगमगाया जाएगा. योगी ने ऐलान किया कि पूरे इलाके में बिजली के खंभे भी रोशनी से नहाएंगे जो आने जाने वाले लोगों के लिए मनोरम दृश्य साबित होगा. योगी ने कहा कि मथुरा वृंदावन की तर्ज पर ही इस साल दीवाली में अयोध्या में भी बिजली की ऐसे ही परमानेंट व्यवस्था की जाएगी साथ ही काशी और कुंभ के लिए प्रयाग में भी बिजली की बेहतरीन रोशनी और रंग-बिरंगी रोशनी की व्यवस्था की जाएगी.

गायों की समाधि के लिए दी जाएगी 10 एकड़ जमीन

योगी ने स्वच्छता अभियान और गोरक्षा के लिए संत समाज के साथ-साथ आम लोगों से भी अपील की कि वह गोसेवा के लिए हर दिन 1 रुपये जमा करें और साल में 365 रुपये गौशालाओं में दान दें. योगी ने ऐलान किया कि इस पूरे इलाके में साधु संतों की समाधि के लिए 10 एकड़ जमीन और गोमाता की समाधि के लिए भी 10 एकड़ जमीन दी जाएगी.

राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे बृज के विकास के लिए बरसाना में पीपीपी मॉडल से रोप-वे बनाने की भी घोषणा की. साथ ही गोवर्धन में रासोत्सव मनाए जाने की भी घोषणा की.

व्यावसायिक मठ और मंदिरों को भी योगी ने तोहफा दिया. उन्होंने घोषणा की कि अब उन मठ मंदिरों में व्यावसायिक दरों से बिजली नहीं दी जाएगी जहां सेवा भाव, पूजा- पाठ और आश्रम की व्यवस्था है. साथ ही योगी ने पूरे प्रदेश में गौशालाओं और उसमें इस्तेमाल होने वाले ट्यूबवेल के लिए भी कृषि दर से बिजली मुहैया कराए जाने की घोषणा की.