राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मानहानि मामले में कांगे्रस अध्यक्ष राहुल गांधी पर आरोप तय

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर आज महाराष्ट्र के भिवंडी की अदालत में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मानहानि मामले में अारोप तय हो गए हैं। वहीं कोर्ट में राहुल गांधी ने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि मैं दोषी नहीं हूं। सुनवाई के दौरान राहुल के साथ अदालत में पूर्व मुख्‍यमंत्री अशोक चव्‍हाण और अशोक गहलोत भी मौजूद थे। दरअसल राहुल ने छह मार्च, 2014 को एक चुनावी रैली में महात्मा गांधी की हत्या को आरएसएस से जोड़ा था। जिसके बाद संघ कार्यकर्ता राजेश कुंटे ने उनके खिलाफ भिवंडी में केस दर्ज किया था। कुंते का आरोप है कि राहुल के बयान से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की छवि को नुकसान पहुंचा है। कांग्रेस अध्यक्ष के वकील नारायण अय्यर ने बताया कि 2014 के मामले में अदालत उनके खिलाफ आरोप तय कर सकती है। गौरतलब है कि आरएसएस मानहानि मामले में लिखित हलफनामा के बजाय बयान दर्ज करने के लिए राहुल की याचिका पर अदालत ने सुनवाई करन के बाद 12 जून की तारीख तय की थी। इसके साथ ही आज ही दिन बचाव पक्ष का बयान भी दर्ज किया जाएगा। जानकारी के अनुसार कोर्ट में पेश होने के बाद राहुल शाम चार बजे मुंबई के गोरेगांव में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करेंगे। इसके बाद वह पार्टी के नगर सेवकों से संवाद करेंगे। यहां वे ‘शक्ति’ नाम से एक परियोजना शुरू करेंगे जिससे पार्टी कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद कायम किया जा सकेगा।