रेलवे ने दिया भोपाल खजुराहो के बीच यात्रियों को इस खास ट्रेन का तोहफा

- in व्यापार

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से पर्यटन नगरी खजुराहो के बीच चलने वाली चेयरकार महामना एक्सप्रेस को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दिल्ली से रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. वहीं इस मौके पर भोपाल के स्टेशन पर समारोह आयोजित किया गया.

पहले दिन गाड़ी को विशेष रूप से फूलमालाओं से सजाया गया था और इस गाड़ी में यात्रा को लेकर यात्रियों में खासा उत्साह था. यह पहली ऐसी गाड़ी है, जिससे राज्य की राजधानी को पर्यटक नगरी खजुराहो से जोड़ा गया है.

राजधानी में आयोजित समारोह में सांसद आलोक संजर, सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग ने कहा, “भोपाल-खजुराहो के मध्य इस नई ट्रेन के चलने से दो पर्यटन स्थल सीधे जुड़ गए हैं. अभी तक जनता को सड़क मार्ग से इस सफर को पूरा करना पड़ता था. इस गाड़ी का रैक आधुनिक सुख-सुविधाओं से सुसज्जित है. इसको स्वच्छ रखने में हम सभी को सहयोग करना पड़ेगा, तभी ये गाड़ी स्वच्छ रहेगी.”

रेल प्रशासन की ओर दी गई जानकारी के अनुसार, यह गाड़ी प्रतिदिन चलेगी. गुरुवार को भोपाल से खजुराहो गई है. यह गाड़ी शुक्रवार को खजुराहो से भोपाल लौटेगी. यह 15 जुलाई से नियमित रूप से सुबह 6.50 बजे भोपाल से रवाना होकर विदिशा, गंजबासौदा, मंडीबामोरा, बीना, ललितपुर, टीकमगढ़, छतरपुर होती हुई दोपहर 1.30 खजुराहो पहुंचेगी. वहीं, खजुराहो से उसी दिन शाम 4.15 बजे रवाना होकर रात 10.55 बजे भोपाल लौटेगी.

रेलवे के मुताबिक, इस गाड़ी में एक वातानुकूलित चेयरकार, नौ चेयरकार, दो सामान्य श्रेणी कोच और दो ‘स्लीपर कम लगेज रेक’ (एसएलआर) यानी कुल मिलाकर 14 डिब्बे हैं.