लिवर को बैक्टीरिया और इंफेक्शन से बचाती है ये आयुर्वेदिक चाय

- in स्वास्थ्य

लिवर को शरीर का सबसे अहम अंग माना जाता है। क्योंकि इसके बिना जीने की कल्पना भी नहीं कि जा सकती है। इसलिए हमें लिवर का विशेष ध्यान रखना चाहिए। लेकिन हमारी गलत आदतों की वजह से हम लिवर को खराब कर लेते है। जिसेस हमारा लिवर संक्रमित हो जाता है। औऱ पूर्ण रूप से हमारे शरीर के टोक्सिंस बाहर नहीं निकल पाते है। हम आपको कुछ आसान से उपाय बता रहे है। जिनके माध्यम से आप अपने लिवर को स्वस्थ रख सकते है।

आयुर्वेदिक चाय का करे इस्तेमाल – अगर आपको चाय पीना पसंद है तो सही चाय पिएं। साधारण चाय मे कोफीन की मात्रा होती है जो हमारे लिवर को नुकसान पहुंचाती है। आप साधारण चाय की जगह पर मुलेठी की आयुर्वेदिक चाय पिएं। जो आपके लिवर को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करेंगीय़। इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप बीमार हों तभी मुलेठी का करे। साधारण होनें पर भी इसकी चाय का सेवन कर सकते है।

ऐसे बनाए चाय – सबसे पहले भगोनी में पानी को उबाले अब उबलते हुए पानी में एक चुटकी मुलेठी का पाउडर डालें और उसमे थोड़ी सी चायपत्ती डालें। 10 मिनट तक उबालें और छान लें।और चाय के रूप में इसका सेवन करे। आपको बता दें कि यह चाय हमारे शरीर से टोकसिंस को बाहर निकालने में बहुत मददगार होती है।

ये है इस चाय के फायदे – मुलेठी में ग्लिसराइजिक एसिड के होने की वजह से इसका स्वाद शक्कर से अधिक होता है। यह अपने मीठे स्वाद व एंटी अल्सर के लिए जाना जाती है। यह इंटरफेरॉन के बनने में भी मदद करती है जो कि एक प्रकार की इम्यून कोशिका होती है जो हमारे लिवर को क्षतिग्रस्त होनें से बचाती है।