वाजपेयी जी की करिश्माई शख्सियत को दुनिया के इन महान राजनीतिज्ञों ने किया सलाम

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के निधन पर शोक प्रकट करते हुए सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पिओ ने अपने बयान में कहा कि ‘अमेरिका के लोगों की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर वह भारत की जनता के प्रति गहरा शोक प्रकट करते हैं’.

प्रत्येक भारतीय के जीवन को बेहतर बनाने का प्रयास किया
माइक पोम्पिओ ने वैश्विक एवं आर्थिक ताकत के रूप में भारत के उदय में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के योगदान को रेखांकित करते हुए कहा कि उन्होंने अमेरिका-भारत संबंधों के साझे प्रयासों की दिशा में नैसर्गिक गठजोड़ की प्रकृति को पहचाना था. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने देश के विकास के लिये अथक परिश्रम किया. उन्होंने पूरे समर्पण से प्रत्येक भारतीय के जीवन को बेहतर बनाने का प्रयास किया.

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिकी कांग्रेस में 2000 में उन्होंने अमेरिका भारत संबंधों को साझे प्रयासों की दिशा में नैसर्गिक गठजोड़ बताया था. उन्होंने शुरू में ही इस बात की पहचान की थी कि अमेरिका और भारत साझे लोकतांत्रिक मूल्यों के आधार पर एक ऐसा गठजोड़ कायम कर सकते हैं जो दुनिया और इस क्षेत्र की आर्थिक समृद्धि और सुरक्षा में योगदान कर सकता है.

अमेरिकी राजदूत केनेथ ने भी किया याद
इससे पहले अमेरिकी राजदूत केनेथ आई जस्टर ने कहा था कि अटल बिहारी वाजपेयी और जॉर्ज डब्ल्यू बुश के शासन में भारत-अमेरिका संबंधों की प्रगति ने नए स्तर को छुआ था. जस्टर ने ये बातें यहां भारत के पूर्व विदेश सचिव और अमेरिका में राजदूत रह चुके ललित मानसिंह के साथ ‘‘इवॉल्यूशन ऑफ यूएस इंडिया रिलेशनशिप’’ (भारत-अमेरिका संबंधों का विकास) विषय पर चर्चा के दौरान कहीं.अमेरिकी राजदूत ने कहा, ‘‘वाजपेयी और बुश के कार्यकाल से पहले तक भारत-अमेरिका के रिश्ते में फासले थे. दोनों नेता इस संबंध को नए स्तर तक ले गए.’’

पुतिन ने भारत-रूस सम्बन्धों को और प्रगाढ़ बनाने का दिया श्रेय
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने राष्ट्रपति कोविंद और प्रधानमंत्री को भेजे अपने शोक सन्देश में कहा कि “वाजपेयी ने दोनों देशों के दोस्ताना सम्बन्धों को एक नया आयाम दिया और नीतिगत सम्बन्धों को सुधारा.”

 

श्रीलंका ने खोया एक दोस्त: राष्ट्रपति मैत्रिपाल
श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाल सिरिसेना ने कहा कि वाजपेयी जी की मृत्यु से ‘हमने एक सच्चा मानवतावादी और एक दोस्त खोया है.’

 

भूटान देश के पूर्व प्रधानमन्त्री शेरिंग तोब्गे ने वाजपेयी जी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि, ‘अटल बिहारी वाजपेयी की मृत्यु पर भारत सरकार और देश के लोगों के साथ मुझे सहानुभूति है. दुनिया उन्हें विलक्षण राजनीतिज्ञ के रूप में याद रखेगी.’