शादीशुदा ज़िंदगी बर्बाद कर देता है एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर

- in 18+, जीवनशैली, वायरल


शादी के बाद एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर रखने से आपका रिश्ता प्रभावित होता है। ये सभी चीज़ें लोगों के मन में शादी के प्रति घृणा पैदा करती हैं। जब हम ऐसी घृणास्पद गतिविधियों में शामिल होते हैं तो हम इस बारे में चिंता करते हैं कि समाज के लोग हमारे बारे में क्या सोचेंगे? जब आप एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर में रहते हैं तो कई कारण ऐसे भी हैं जो गलत होते हैं। एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का मतलब है कि आप किसी और से भावनात्मक और शारीरिक संतुष्टि पाने के लिये खोज करते हैं, जिसकी आपको शादी से पहले उम्मीद थी।

एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर शादी के लिये एक बुरे सपने जैसा है। एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर किसी ऐसे चीज़ में खुद को प्रकट करने का एक तरीका है, जो आपके और आपके साथी के लिये अस्वास्थ्यकर है। इसका क्या प्रभाव पड़ता है? हम सब उन प्रभावों के बारे में जानते हैं जो हमेशा समाज में रहे हैं। लेकिन विवाह को प्रभावित करने वाले अन्य प्रभाव क्या हैं? बड़े प्रभाव क्या हैं जिन्हें हम महसूस तक नहीं करते हैं? यह आलेख उन कारणों पर आधारित है जो सामने दिखाई नहीं देते हैं। अगर आप शादीशुदा हैं और आप एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर करते हैं तो यह धोखा देने का सबसे बड़ा कारण है।
1. भावनात्मक रूप से प्रभावित करता है जब किसी शादीशुदा जोड़े में से एक साथी एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर करता है तो दूसरा साथी भावनात्मक रूप से प्रभावित होता है। कभी-कभी भावनात्मक झटका इतना बुरा होता है कि आप साथी का सामना तक नहीं कर पाते हैं। यह साथी के दिमाग में डर को पैदा करता है। एक्स्ट्रा मैरिटल किसी भी शादी के लिये एक विनाश है। इंसान जब टूट जाता है तो वह भावनाओं को हटा देता है और डिप्रेशन में चला जाता है। यह एक शोध से पता चला है कि आमतौर पर यह उन कपल के साथ सबसे ज़्यादा देखा जाता है जो अपने साथी से बहुत अधिक जुड़े हुए और उन पर निर्भर होते हैं।
2. विश्वास टूटने का डर एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर करने वाला साथी दूसरे साथी का विश्वास तोड़ देता है। एक बार साथी को आपके दूसरे रिश्ते के बारे में पता चल जाता है, तो साथी का विश्वास आप पर खत्म हो जाता है। धोखेबाज साथी पर वापस से विश्वास करना मुश्किल हो जाता है।
3. आत्म-सम्मान कम हो जाना धोखेबाज़ साथी ने अपना आत्म-सम्मान खो दिया है और पछतावा भरा हुआ है। दूसरा साथी धोखेबाज़ साथी के लिये अपने प्यार को खत्म कर देता है। अपराध उनके लिये असली हो जाता है और उनके लिये स्थिति को समझना मुश्किल हो जाता है। वे अंततः स्थिति से बाहर निकलने की कोशिश करते हैं लेकिन आत्म-सम्मान के नुकसान को भरने में काफी समय लगता है।
4. पारिवारिक बंधनों को तोड़ता है जो धोखाधड़ी करता हैं उन्हें महसूस होता है कि परिवारवाले उनसे दूर हो रहे हैं। जिस घर को आपने अपनी शादी और परिवार के प्यार से बनाया था वो अब टूट रहा है। यह अफेयर आपके साथी और परिवार के बीच बंधन को तोड़ता है। फिर व्यक्ति पारिवारिक संबंध में खुश नहीं रह पाता है। वह परिवार के प्रति विश्वास खो देता है और यह केवल आपके अफेयर की वजह से होता है।
5. अकेलापन अकेलापन एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर की ही देन है। यह आपको अपने दिमाग के गहरे कोने के कमरे में डाल देता है और आपको बंद कर देता है। धोखाधड़ी करने वाले साथी के पास से खुशी चली जाती है और अकेलापन रह जाता है। अकेलापन साथी के जीवन को सूना बना देता है। परामर्श और इच्छाशक्ति ये दो सहायताएं हैं, जिनपर वे भरोसा करते हैं। कुछ कारणों के दुरुपयोग की वजह से आपका जीवन भयावह चरण में समाप्त होता है। ये 6 प्रमुख कारण हैं जिसकी वजह से शादी के बाद एक्स्ट्रा मेटेरियल अफेयर एक दुस्वप्न साबित होता है। अगर आपको इस तरह के आर्टिकल पसंद हैं तो हमें नीचे दिये गये कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।
6. दिशानिर्देश को धुंधला कर देना जब कोई साथी अपने पार्टनर को धोखा देने के बारे सोचता है तो वह उसे बचाने की कोशिश करते हैं। उन्हें जब दर्द होता है, तब उन्हें महसूस होता है कि उनका वैवाहिक जीवन और प्रेम संबंध इस वजह से बर्बाद हो गया था। इससे उनमें धुंधला अभिविन्यास दिखने लगता है। यह शादी में सबसे बड़े दुस्वप्न में से एक है। धोखेबाज़ साथी के साथ अलग-अलग तरीकों की भावना जो एक बार सपोर्टिव थी लेकिन अब भयानक हो जाती है।