सबसे बड़ा धोखा, नहीं हुई कोई सर्जिकल स्ट्राइक

- in संपादकीय

talk-to-ak-vs-mann-ki-baatINDIAN ARMY की SURGICAL STRIKE पर राजनीति शुरू हो गई है। CONGRESS ने SURGICAL STRIKE की विश्वसनीयता पर ही सवाल उठाते हुए MODI सरकार को घेरने की कोशिश की।

मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए कहा कि पूरी दुनिया हमसे सवाल कर रही है। इसलिए हमें सबूत दे देना चाहिए। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि भारतीय जनता पाक के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक चाहती है, लेकिन फर्जी नहीं। उन्होंने बीजेपी पर राष्ट्रीय हित के मुद्दों पर राजनीति करने का आरोप लगाया।
कांग्रेस नेता ने कहा कि देश सर्जिकल स्ट्राइक चाहता है मगर फर्जी नहीं। सर्जिकल स्ट्राइक पहले भी होती रही हैं, लेकिन कोई हल्ला नहीं होता था। डीजीएमओ ने जिसके कहने पर सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बताया उसे जवाब देना चाहिए। निरुपम ने कहा कि इसके बारे में बोलने की जरूरत नहीं थी। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक और सेना की कार्रवाइयों पर ना बोलने की परंपरा थी। अब जब इसे घोषित किया गया है तो एक कदम और आगे बढ़कर इसके सबूत दे देने चाहिए। क्योंकि पूरी दुनिया में हमपर सवाल खड़े हो रहे हैं।
इसके पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मोदी की तारीफ करते हुए पाकिस्तान को सबूत देने की मांग की थी। जिसके बाद बीजेपी ने उनपर सवाल खड़े करते हुए पूछा था कि क्या केजरीवाल को देश की सेना पर भरोसा नहीं है? केंद्रीय मंत्री व बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘केजरीवाल एक तरफ मोदी की तारीफ करते हैं और दूसरी तरफ उनपर अविश्वास भी प्रकट कर रहे हैं। लग रहा है कि केजरीवाल के मन में कोई आशंका है। उन्हें सेना पर भरोसा करते हुए एक स्वर में बोलना चाहिए। पूरे देश को एक स्वर में बोलना चाहिए।
उधर, दिल्ली में केजरीवाल के घर के सामने बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। उन्होंने केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी भी की। इस पर केजरीवाल ने कहा कि कि बीजेपी इतनी बौखलाई हुई क्यों है। उन्होंने कहा, ‘मैंने सिर्फ पाकिस्तान को जवाब देने को कहा था, लेकिन बीजेपी तो बेवजह बौखला गई। हम लोगों को पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देना है। चाहे कोई किसी भी पार्टी का हो उसे पीएम के हाथ मजबूत करने हैं।’
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी का सेना पर भरोसा है। कांग्रेस कभी भी राष्ट्रीय मुद्दों पर राजनीति नहीं करती। दिग्विजय ने कहा, ‘हमने कभी ऐसे मामलों पर राजनीति नहीं की। जिस दिन यह हुआ था हमने उसी दिन सेना और सरकार को बधाई दी। पाकिस्तान इंटरनैशनल मीडिया को बुलाकर सर्जिकल स्ट्राइक को झूठा साबित करने का दावा कर रहा है। यूएन भी कह रहा है कि वहां ऐसा कुछ नहीं हुआ है। इससे हमारी सेना पर सवाल खड़े हो रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि भारत को सबूत देना चाहिए।