सास को आग में घिरी देख बहू पहुंची बचाने, मां और दादी से लिपट गई बच्ची

- in Uncategorized
fire-accident_1482623439भोपाल/छतरपुर.महोबा जिले में कुलपहाड़ थाना के मुड़ारी गांव में एक दर्दनाक हादसा हुआ। सास लैंप को बुझाने के दौरान झुलस गई और उसे बचाने में उसकी गर्भवती बहू भी लपटों में घिर गई। इस दौरान दो साल की बच्ची ज्योति ने मां और दादी को जलता देखा तो वह उनसे चिपक गई। हादसे में बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई है जबकि दोनों महिलाओं को छतरपुर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
– मुड़ारी गांव में शुक्रवार की रात धनकुंअर पति नारायण दास कुशवाहा उम्र 50 वर्ष अपने घर पर जलते हुए लैंप में केरोसिन भर रही थी।
– इस दौरान अचानक उनके कपड़ों में आग लग गई। उन्हें जलता देख बहू मोना पति ग्याप्रसाद कुशवाहा उम्र 30 वर्ष उसे बचाने पहुंची तो मोना के पैरों की ओर साड़ी में आग लग गई।
– लैंप जमीन में रखा होने के कारण दोनों महिलाओं के पैरों की ओर से ही कपड़ों में आग लगी थी।
– इस दौरान मोना की दो साल की बेटी ज्योति यह दर्दनाक हादसा देख घबराकर मां और दादी के पैरों से लिपट गई जिससे सौ फीसदी जलने के कारण उसने दम तोड़ दिया।
– सास धनकुंअर और गर्भवती बहू मोना को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिला अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. निधि खरे का कहना है मोना की हालात गंभीर बनी है।