सीरिया: अस्पतालों पर किया गया हवाई हमला, संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने की निंदा

संयुक्त राष्ट्र। उत्तर पश्चिम सीरिया में हुआ हवाई हमलों की संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने निंदा की है। खबरों के अनुसार इन हमलों में चार स्वास्थ्य केंद्रों को निशाना बनाया गया है। चिकित्सा देखभाल और राहत संगठनों के संघ के अनुसार, बुधवार को एक एंबुलेंस केंद्र, मरात अल नुमान में एक और दो अस्पताल को हमलों में निशाना बनाया गया।

गुटेरेस ने गुरुवार को अपने प्रवक्ता द्वारा जारी एक बयान में कहा, ‘चिकित्सा सुविधाओं सहित नागरिकों और नागरिक बुनियादी सुविधाओं की रक्षा की जानी चाहिए। गुतारेस ने कहा, ‘विपक्षी धड़ों को अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून के तहत अपने दायित्वों का सम्मान करना चाहिए। बयान में कहा गया है कि संयुक्त राष्ट्र ने मारत अल नुमान में अस्पताल के निर्देशांक साझा किए हैं। गुटेरेस ने कहा, ‘संघर्ष के पक्षकारों को अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून के तहत अपने दायित्वों का सम्मान करना चाहिए।’

जानकारी के लिए बता दें कि रूस द्वारा समर्थित, सीरियाई बलों ने अप्रैल के अंत में इदलिब क्षेत्र पर बमबारी की, जो जिहादी समूह हयात तहरीर अल-शाम (एचटीएस) द्वारा नियंत्रित है। संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि विद्रोहियों को खदेड़ने के लिए चौतरफा आक्रामक उस क्षेत्र में नरसंहार का कारण बन सकता है जहां लगभग 30 लाख लोग रहते हैं। बता दें कि अप्रैल से अब तक हवाई हमलों में 23 अस्पतालों को निशाना बनाया गया है। हालांकि रूस ने इस बात से इनकार किया कि बमबारी कर अस्पतालों को निशाना बनाया गया है। साथ ही कहा कि सैन्य कार्रवाई का उद्देश्य आतंकवादियों को बाहर निकालना है। सिरिया में चल रहे इस युद्ध का अब नौवा साल है। इन नौ वर्षों में लगभग 370,000 से अधिक लोग मर गए हैं।