सेलेब्स जैसी सोशल मीडिया पर पॉपुलर है ये साध्वी, ये है फेमस होने का बड़ा राज

- in जीवनशैली

जब से इंटरनेट आया है लोगों ने सोशल मीडिया पर अकाउंट बना लिये हैं और 24 घंटे उस पर एक्टिव भी रहते हैं. वहीं सेलिब्रिटी और नेता भी इससे अछूते नहीं हैं. वे अपने पल-पल की खबरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करते रहते हैं. इंस्टाग्राम में सबसे ज्यादा सेलिब्रिटी अपनी फोटोज़ और वीडियो को पोस्ट करते हैं और यूजर्स भी उनकी फोटोज़ को काफी लाइक करते हैं. लेकिन आज हम आपको किसी सेलिब्रिटी या नेता के बारे में नहीं बता रहे हैं बल्कि आज हम आपको एक साध्वी के बारे में बता रहे हैं. जिनकी खूबसूरती के चर्चे सोशल मीडिया पर काफी चर्चित हैं और ये साध्वी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव भी रहती हैं.

इन साध्वी ने पहले एमए की पढ़ाई पूरी की फिर उन्होंने अध्यात्म का रास्ता चुन लिया है. आज वह देशभऱ में कथा करती हैं उनका नाम है स्वामी अनादि सरस्वती. ये केवल कथावाचक ही नहीं बल्कि कई इंस्टीट्यूट और कंपनियों के कर्मचारियों को ट्रेनिंग भी देती हैं. वे अपने उपदेशों के जरिए लोगों में आत्मविश्वास जगाती हैं. उनके प्रवचन में धार्मिक बातों के साथ मॉर्डन ज्ञान और विज्ञान की बातें भी शामिल रहती हैं.सोशल मीडिया पर भी उनके हजारों की संख्या में फॉलोवर्स हैं, जो उनको फॉलो करते हैं.

कौन हैं स्वामी अनादि सरस्वती?

स्वामी अनादि सरस्वती राजस्थान के अजमेर की रहने वाली हैं. उन्होंने समाज शास्त्र से एमए किया हुआ है और उसके बाद उन्होंने अध्यात्म का रास्ता चुन लिया. आध्यात्म का रास्ता चुनने के बाद उन्‍होंने पतंजली योगदर्शन, भगवद गीता और वेदांत का ज्ञान भी हासिल किया. साल 1995 से अनादि सरस्वती इस साधना से जुड़ी हुई हैं. साल 2005 से वे एक कथावाचक के रूप में उभरकर सामने आई हैं.उन्होंने धर्म को बहुत ही करीब से जाना है.

साल 2008 में अनादि सरस्वती ने गुरू रेवेंद्र स्वामी धर्म प्रेमानंद सरस्वती से दीक्षा हासिल की थी. इस दौरान उन्होंने अपने गुरु के साथ देशभर का भ्रमण किया और आध्यात्मिक ज्ञान हासिल किया. अनादि सरस्वती ने शंकाराचार्य के महानिर्वाण अखाड़े की परंपरा के मुताबिक दीक्षा हासिल की है.इनके धार्मिक प्रवचन को सुनने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं. वे ‘चिति संधान योग’ नाम की एक संस्था की चेयरपर्सन भी हैं.

कई बड़े इवेंट्स में भी आती हैं नजर…

विश्व हिंदू परिषद के कई कार्यक्रमों में साध्वी अनादि नजर आ चुकी हैं और वे हिन्दुत्‍व का भी प्रचार करती हैं. बेंगलुरू में एक ज्वैलरी शोरूम के उद्घाटन के दौरान वह बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीता के साथ भी नजर आई थीं. साध्वी अनादि सरस्वती एक कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह के साथ भी नजर आ चुकी हैं. अनादि सरस्वती की संस्था का मुख्य ऑफिस अजमेर में है, लेकिन वह लगातार प्रवचन के लिये मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु और पुणे जैसे देश के दूसरे शहरों में जाती रहती हैं.

पुरस्कारों से सम्मानित

सोशल मीडिया में वे अपनी हर बात ओम नम: शिवाय के साथ रखती हैं. उनको “BEST FEMALE SAINT of India” के अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका हैं. मुम्बई के इस्कॉन ऑडिटोरियम जुहू में हुए भव्य समारोह में चिति संधान योग केन्द्र की चेयरपर्सन स्वामी अनादि सरस्वती को ‘टॉप 50 इण्डियन आइकन अवार्ड-2016‘ से सम्मानित किया गया. यह सम्मान उन्हें अध्यात्म के माध्यम से भारतीय समाज को उन्नति की ओर ले जाने के सार्थक प्रयासों के बहुमूल्य योगदान के लिए दिया गया. वह अजमेर में हुई ग्लोबल पीस कॉन्फ्रेस में भी अहम गेस्ट के रूप में नजर आईं थीं.