स्कूल से लौटे बच्चे ने शर्ट उतारी तो शरीर पर घाव देख पिता के पैरों तले खिसक गई जमीन

- in उत्तराखंड

पहाड़ा नहीं सुना पाने पर शिक्षिका ने कक्षा तीन के छात्र की बेरहमी से पिटाई कर दी। इससे अभिभावक भड़क गए।स्कूल से लौटे बच्चे ने शर्ट उतारी तो शरीर पर घाव देख पिता के पैरों तले खिसक गई जमीन

मामले में डीईओ (बेसिक) ने शिक्षिका को उपखंड शिक्षाधिकारी कार्यालय थत्यूड़ अटैच कर दिया है। वहीं परिजनों की ओर से अभी तक पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है, बावजूद शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए स्कूल में पुलिस बल तैनात किया गया है।

जौनपुर ब्लॉक में सिलवाड़ पट्टी के ग्राम कांडी मल्ली निवासी विनोद रावत ने बताया कि उनका बेटा विकास प्राथमिक स्कूल कांडी में कक्षा तीन का छात्र है।

पिता ने जब बच्चे की पीठ पर घाव देखे तो सहम गए

 सोमवार को स्कूल से घर लौटने पर बच्चे ने बताया कि पहाड़ा नहीं सुना पाने पर शिक्षिका सीमा रानी ने स्टील के स्केल से उसकी पिटाई की। पिता ने जब बच्चे की पीठ पर घाव देखे, तो वे सहम गए। 
गुस्साए परिजनों ने देर शाम पुलिस को घटना की मौखिक सूचना दी। मंगलवार को जांच के लिए स्कूल पहुंचे तहसीलदार जेएस राणा ने बताया कि जांच में शिक्षिका ने अपनी गलती स्वीकारी है।स्कूल की शिक्षामित्र नीलम रावत ने भी छात्र को स्टील के स्केल से पीटने की पुष्टि की है। छात्र के पिता विनोद सिंह, शिक्षामित्र और आरोपी शिक्षिका सीमा रानी के बयान दर्ज कर रिपोर्ट डीएम को भेजी गई है। 
 

आवेश में आकर छात्र की पिटाई करने पर शिक्षिका को अफसोस

बीआरसी और सीआरसी ने स्थानीय लोगों के साथ बैठक की। स्थानीय लोगों ने शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए उन्हें तत्काल हटाने की मांग की।
बीआरसी मेहरबान सिंह पंवार ने बताया कि उच्चाधिकारियों को घटना की जानकारी दे दी गई है। डीईओ (बेसिक) एसएस बिष्ट ने आरोपी शिक्षिका को तत्काल प्रभाव से उपशिक्षाधिकारी कार्यालय थत्यूड़ तैनात करने के निर्देश दिए हैं। डीईओ ने जांच के बाद शिक्षिका का स्थानांतरण करने का आश्वासन दिया। आरोपी शिक्षिका सीमा रानी ने कहा कि आवेश में आकर छात्र की पिटाई करने पर उन्हें काफी अफसोस है। शिक्षिका ने परिजनों को लिखित माफीनामा दिया है, जिसमें उन्होंने फिर ऐसी गलती नहीं करने और छात्र के इलाज का खर्च उठाने की बात कही है। नैनबाग चौकी प्रभारी नीरज रावत ने बताया कि तहरीर मिलने पर शिक्षिका के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया जाएगा। शांति व्यवस्था बनाने के लिए पुलिस टीम मौके पर मौजूद है।