ससुरालियों ने विवाहिता को जिन्दा जलाने का किया प्रयास, बचाने में बेटी झुलसी

- in उत्तर प्रदेश

इलाहाबाद। हण्डिया थाना क्षेत्र गनेशीपुर गांव में शनिवार की सुबह ससुराल वालों ने मिट्टी का तेल डालकर एक विवाहिता को जिन्दा जलाने का प्रयास किया। जिसे बचाने में उसकी 12 वर्षीय बेटी भी गम्भीर रूपसे झुलस गयी। गांव के लोगों ने 100 डायल करते हुए मायके पक्ष को सूचित किया। परिवार के लोगों ने उसे नगर के स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में दोनों को भर्ती कराया। जहां विवाहिता की हालत गम्भीर बतायी जा रही है। मिर्जापुर जनपद के पड़री थाना क्षेत्र के सिकन्दरा देवाही गांव निवासी कैलाश सिंह ने अपनी 35 वर्षीय बेटी रिंका सिंह का विवाह लगभग 14 वर्ष पूर्व हण्डिया थाना क्षेत्र के गनेशी पुर गांव निवासी रघुनाथ सिंह के बेटे जंगबहादुर सिंह के साथ किया था। रिंका सिंह के भाई संजय सिंह ने आरोप लगाते हुए बताया कि ससुराल वाले मेरी बहन को किसी न किसी बात को लेकर अक्सर मारते पीटते रहते हैं।

शनिवार को किसी बात को लेकर विवाद हुआ जिसमें जेठानी ने उसके ऊपर गर्म चाय फेंक दिया और बाद में ससुराल वालों ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जिन्दा जलाने का प्रयास किया। जिसे बचाने में उसकी भांजी रतिमा सिंह 12 पुत्री जंगबहादुर बचाने पहुंची वह भी गम्भीर रूपसे झुलस गयी। वही बच्ची रतिमा सिंह ने आरोप लगाते हुए बताया कि मेरी दादी अंजली और बड़ी मां मीरा उसका बेटा विकास व बेटी लक्ष्मी ने मेरी मां के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दिया। उसने स्वयं 100 डायल कर पुलिस को सूचित किया। ग्रामीणों ने मायके पक्ष के लोगों को सूचित किया। पुलिस ने परिजनों की मदद से दोनों को नगर के स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां रिंका सिंह की हालत गम्भीर बतायी जा रही है। रिकां सिंह के पति मुम्बई में प्रावेट काम करते है। उन्हे सूचना दे दी गयी है वह इलाहाबाद के लिए निकल चुके है।

loading...