हार्दिक पांड्या विवाद पर श्रीसंत का रिएक्शन, कहा- बिग बॉस में भेजो

- in मनोरंजन

Sreesanth comments on Hardik Pandya KL Rahul controversy कॉफी विद करण में गेस्ट बनकर क्रिकेटर हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने विवाद को न्योता दे दिया है. महिलाओं पर दिए हार्दिक पांड्या के अश्लील बयानों ने सोशल मीडिया पर तूफान मचा दिया है. क्रिकेटर की हर जगह आलोचना हो रही है. विवाद बढ़ता देख इस एपिसोड को हॉटस्टारने हटा दिया है. हार्दिक के कंट्रोवर्सियल बयानों पर अब बिग बॉस 12 फेम श्रीसंत का रिएक्शन सामने आया है.

हार्दिक पांड्या विवाद पर श्रीसंत का रिएक्शन, कहा- बिग बॉस में भेजोकलर्स के इवेंट में पहुंचे श्रीसंत ने कहा- ”मैं आजकल टीवी और अखबार बहुत कम पढ़ता हूं. मैं इन दिनों बिग बॉस के एपिसोड ही देख रहा हूं. अगर ऐसा कुछ हुआ है तो मेरे ख्याल से एक्शन भी लिया जा चुका है. बीसीसीआई बहुत जल्दी फैसला ले लेता है.” उन्होंने कहा- ”उन दोनोंको खतरों के खिलाड़ी या बिग बॉस में भेजो. अगले साल उन्हें बिग बॉस में जरूर भेजा, मैं बोल रहा हूं बहुत अच्छा रहेगा.”

दूसरे एक इंटरव्यू में श्रीसंत ने हार्दिक पांड्या और केएल राहुल पर बोलते हुए कहा-” जो भी हुआ बहुत बुरा हुआ. लेकिन वर्ल्ड कप नजदीक है. हार्दिक और राहुल अच्छे खिलाड़ी हैं. मैं बस यही कहूंगा कि वे दोनों मैच विनर्स हैं. जल्दी या लेट वे क्रिकेट फील्ड पर वापसआ जाएंगे. उन्होंने गलत बातें की थीं. लेकिन कुछ दूसरे लोगों ने इससे भी बड़ी गलतियां की हैं. जो आज भी खेल रहे हैं.”

श्रीसंत ने बयां किया अपना दर्द

इसके बाद उन्होंने अपना दर्द बयां करते हुए कहा- ”मैं जानता हूं कि एक क्रिकेटर के लिए ये कितना मुश्किल होता है. मैं बस यही आशा करता हूं कि बीसीसीआई उन्हें दोबारा खेलने का मौका दे.” दूसरी तरफ हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने BCCI से अपने बयान पर माफी मांगीहै. कभी हार्दिक पांड्या का नाम एक्ट्रेस ईशा गुप्ता संग जुड़ा था.

हार्दिक पांड्या पर बोलीं ईशा गुप्ता

ईशा ने हार्दिक से जुड़ी कंट्रोवर्सी पर रिएक्ट किया है. उन्होंने कहा, “आपको किसने कहा, वो मेरा दोस्त है? सबसे पहली बात ये है कि महिला और पुरुष की बराबरी नहीं हो सकती है. महिलाएं हर मामले में पुरुषों से ज्यादा सम्मान की हकदार हैं. मैं किसी को बुरा महसूसनहीं कराना चाहती हूं, लेकिन पुरुष बच्चे को जन्म नहीं दे सकते. अगर आपको लगता है कि आपका परिवार इस बारे में चिंता नहीं करता तो अच्छा होगा उन्हें इस बात की फ‍िक्र हो. ये इंसानियत को देखते हुए भी गलत है.”