हिंदुस्तान के बारे में ऐसा सोचते हैं पाकिस्तानी मुसलमान, भारतवासी जरुर पढ़े…

- in राष्ट्रीय

साल 1947 में भारत को आजादी मिली थी. इस आजादी के साथ ही भारत को बरसों में चली आ रही अंग्रेजों की गुलामी से छुटकारा मिल गया था. हालांकि इस दौरान भारत दो टुकड़ों में बंट गया. दूसरे टूकड़े का नाम ‘पाकिस्तान’ रखा गया. भारत और पाकिस्तान के अलग होने के बाद से ही दोनों देशों के बीच राजनीतिक तौर पर काफी गहमागहमी देखी गई है. दोनों देशों के बीच युद्ध जैसी स्थिति भी कई बार बनी और युद्ध हुए भी. लेकिन शांति और अमन की तलाश में दोनों देशों के बीच कई बार वार्ता भी हुई लेकिन कई बार दोनों देश ही किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंचे. पाकिस्तान में जहां मुस्लिम आबादी ज्यादा है तो वहीं हिंदुस्तान में हिंदुओं की आबादी की तादाद काफी ज्यादा है लेकिन क्या आप जानते हैं कि पाकिस्तानी मुसलमान हिंदुस्तान के बारे में क्या सोचते हैं ? नहीं,,, तो आइए जानते हैं.

हिंदुस्तान के बारे में ऐसा सोचते हैं पाकिस्तानी मुसलमान, भारतवासी जरुर पढ़े...

अगर आपने कभी कल्पना की होगी कि पाकिस्तान में जन्मा, पला-बड़ा कोई इंसान हिंदुस्तान के बारे क्या सोचता होगा ? तो जहन में सिर्फ एक ही जवाब आता होगा वो है ‘नफरत’. आप सोचते होंगे कि कोई पाकिस्तनी मुसलमान हिंदुस्तान से सिर्फ नफरत ही कर सकता हैं. लेकिन हकीकत इससे काफी उलट है. ऐसा नहीं है कि पाकिस्तान के हर मुसलमान के दिल में हिंदुस्तान के लिए नफरत भरी हुई है. कई ऐसे भी लोग हैं जो नफरत को दूर रखकर दोनों देशों के बीच चैन और अमन की कामना करते हैं.

दरअसल, पाकिस्तान की बड़ी हस्तियों से लेकर आम लोग भी हिंदुस्तान आया करते हैं. पाकिस्तान की बड़ी हस्तियां अपने कार्यक्रमों की वजह से भारत आते हैं तो वहीं पाकिस्तान के आम मुसलमान भारत घुमने या इलाज के सिलसिले में भारत आते हैं. ऐसे में उन मुसलमानों के दिल में हिंदुस्तान और हिन्दुस्तानियों के लिए नफरत की जगह दिल में सिर्फ प्यार और हिन्दुस्तानियों के प्रति सच्चा सम्मान देखा गया है. वहीं उनमें से एक बड़ी शख्सियत का अब भी मानना है कि पाकिस्तानी मुसलमान अभी तक मानता हैं कि धर्म और इस्लाम के नाम पर जो पाकिस्तान बना हैं, वह मुसलमानों की सबसे बड़ी गलती हैं. वह इंसान खुद को आज भी हिन्दुस्तानी मानता हैं. यह इंसान है पाकिस्तानी मुसलमान राइटर तारेक फतेह, जिनकी जड़ें पाकिस्तान में काफी मजबूत हैं.

तारेक फतेह जितना पाकिस्तान को जानते हैं, उतना ही हिंदुस्तान के बारे में वो खबर रखते हैं. तारेक फतेह का कहना है कि हिंदुस्तान पाकिस्तान से बेहतर हैं क्योंकि भारत के लोगों का लहजा दूसरों के प्रति काफी अच्छा है. साथ ही देश काफी प्रगति कर रहा है. वहीं पाकिस्तान की आवाम को लेकर तारेक का कहना है कि पाकिस्तान की जनता भी हिंदुस्तान से हर कदम पर प्रेम और भाईचारे के बढ़ावे के लिए अग्रसर हैं.

सभी बॉलीवुड तथा हॉलीवुड मूवीज को सबसे पहले फुल HD Quality में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें