11 साल बाद चीन ने माना-दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी हमलों में से एक था मुम्बई हमला

अमेरिका ने आतंकी हाफिज सईद के बारे में सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर के इनाम की घोषणा की है।
बीजिंग : 2008 में 26/11 को हुए मुम्बई आतंकवादी हमले को चीन ने सबसे खतरनाक हमलों में से एक करार दिया है। लश्कर-ए-तैयबा ने मुंबई में ताज होटल समेत कई जगहों पर हमला किया था, जिसमें 166 लोग मारे गए थे। चीन ने शियानजियांग प्रांत में मुस्लिमों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई को लेकर निकाले गए श्वेत पत्र में कहा कि बीते कुछ सालों में आतंकवाद और अतिवाद के वैश्विक स्तर पर फैलने से मानव सभ्यता पर खासा असर पड़ा है। ‘आतंकवाद और अतिवाद के खिलाफ लड़ाई और शियानजियांग में मानवाधिकारों के संरक्षण’ नाम से प्रकाशित इस पत्र को तब जारी किया गया है, जब पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन की यात्रा पर हैं। पत्र के मुताबिक, आतंकवाद ने दुनिया में शांति और विकास के लिए खतरा पैदा किया है। आतंकवाद से लोगों के जीवन और संपत्ति को नुकसान पहुंचा है। श्वेत पत्र में चीन ने आतंकवाद की समस्याओं को उस समय उठाया है जबकि कुछ दिनों पहले ही चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जैश सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी करार देने के प्रस्ताव पर तकनीकी रोक (टेक्निकल होल्ड) लगा दी।

चीन के इस कदम को भारत ने निराशाजनक बताया था। श्वेत पत्र के मुताबिक- चीन ने हर तरह के आतंकवाद का विरोध किया है। साथ ही आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में दोहरी नीति अपनाने वालों का विरोध भी किया है। यह भी कहा कि बीजिंग आतंकवाद को किसी खास देश, संप्रदाय या धर्म के साथ जोड़कर नहीं देखता। आतंकवाद को जड़ से खत्म करने के लिए गरीबी खत्म करना जरूरी है ताकि इससे जुड़े लोगों को कोई कमजोर कड़ी न मिल सके। बीते 14 फरवरी को कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। जैश-ए-मोहम्मद हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस हमले के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ा है। 26 फरवरी को भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाक में घुसकर आतंकी गुटों पर कार्रवाई की थी। उधर, मुंबई आतंकी हमले में 9 आतंकी पुलिस के हाथों मारे गए थे जबकि एक आतंकी अजमल कसाब जिंदा पकड़ा गया था। बाद में कसाब को फांसी की सजा दी गई। मुंबई हमले का मुख्य साजिशकर्ता और जमात उद दावा का सरगना हाफिज सईद पाक में खुले आम घूम रहा है।