15 जानें गईं तब जागी BMC, अवैध निर्माण पर चला हथौड़ा

- in Uncategorized

मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में हुए दर्दनाक हादसे में 15 लोगों की जान जाने के बाद आखिरकार अब बीएमसी नींद खुल गई है। शनिवार को बीएमसी ने कई अवैध निर्माण पर कार्रवाई करते हुए उसे ध्वस्त कर दिया।मुंबई के कमला मिल कंपाउंड में हुए दर्दनाक हादसे में 15 लोगों की जान जाने के बाद आखिरकार अब बीएमसी नींद खुल गई है। शनिवार को बीएमसी ने कई अवैध निर्माण पर कार्रवाई करते हुए उसे ध्वस्त कर दिया।  शनिवार सुबह बीएमसी ने कमला मिल कंपाउंड और रघुवंशी मिल कंपाउंड क्षेत्र में कार्रवाई की। यहां कई अवैध निर्माण को गिराया गया। इन क्षेत्रों में कई होटेल के अवैध निर्माण को गिराया गया है। बताया जा रहा है कि बीएमसी ने जांच के लिए कई टीमें गठित की हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए खुद आयुक्त की निगरानी में जांच की जा रही है।  दरअसल, शुक्रवार को कमला मिल आग का मामला संसद में भी खूब गूंजा। इस दौरान बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने दावा किया था कि मुंबई में बड़े पैमाने पर होटेल और पब गैरकानूनी रूप से चल रहे हैं। उन्होंने सरकार से इन अवैध निर्माणों पर कार्रवाई की अपील भी की। उधर, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शुक्रवार को कहा कि कमला मिल परिसर सहित अन्य परिसरों की तत्काल सुरक्षा ऑडिट की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा था कि बीएमसी आयुक्त को बिना अनुमति के बने अवैध निर्माण युद्धस्तर पर तोड़ने का आदेश दिया गया है। सीएम ने बताया कि पब और रेस्तरां बिना पर्याप्त अनुमति के धड़ल्ले से चल रहे हैं। इसकी सूचना प्रशासन को मिली है। इन्हें भी तत्काल तोड़कर दोषियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया गया है।  शनिवार सुबह से ही बीएमसी ने इन अवैध निर्माण पर हथौड़ा चलाना शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि अलग-अलग टीमें अलग-अलग क्षेत्रों में ऑडिट कर रही हैं। हर अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का आदेश दिया गया है।

 शनिवार सुबह बीएमसी ने कमला मिल कंपाउंड और रघुवंशी मिल कंपाउंड क्षेत्र में कार्रवाई की। यहां कई अवैध निर्माण को गिराया गया। इन क्षेत्रों में कई होटेल के अवैध निर्माण को गिराया गया है। बताया जा रहा है कि बीएमसी ने जांच के लिए कई टीमें गठित की हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए खुद आयुक्त की निगरानी में जांच की जा रही है। 
दरअसल, शुक्रवार को कमला मिल आग का मामला संसद में भी खूब गूंजा। इस दौरान बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने दावा किया था कि मुंबई में बड़े पैमाने पर होटेल और पब गैरकानूनी रूप से चल रहे हैं। उन्होंने सरकार से इन अवैध निर्माणों पर कार्रवाई की अपील भी की।
उधर, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शुक्रवार को कहा कि कमला मिल परिसर सहित अन्य परिसरों की तत्काल सुरक्षा ऑडिट की जाएगी।

उन्होंने यह भी कहा था कि बीएमसी आयुक्त को बिना अनुमति के बने अवैध निर्माण युद्धस्तर पर तोड़ने का आदेश दिया गया है। सीएम ने बताया कि पब और रेस्तरां बिना पर्याप्त अनुमति के धड़ल्ले से चल रहे हैं। इसकी सूचना प्रशासन को मिली है। इन्हें भी तत्काल तोड़कर दोषियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया गया है। 

शनिवार सुबह से ही बीएमसी ने इन अवैध निर्माण पर हथौड़ा चलाना शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि अलग-अलग टीमें अलग-अलग क्षेत्रों में ऑडिट कर रही हैं। हर अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का आदेश दिया गया है।