2 साल के बच्चे के सर में यूँ धंस गया पावर प्लग, सर की हालत देख हर कोई दहल उठा

- in अजब-गजब

अगर किसी बच्चे के जन्म होता है तो अगर किसी को सबसे अधिक ख़ुशी उसके माता=पिता को होती है |वो भी माता-पिता ही होते हैं जो अपने बच्चे हर हालत में पूरी रक्षा करते हैं | उसकी ख़ुशी में सबसे ज्यादा खुश उसके माता-पिता होते है और दुःख में भी सबसे ज्यादा दर्द उसके माता-पिता को ही होता है | अपने बच्चे को हर तकलीफ से बचाने के लिए माता-पिता उसे हमेशा परिपूर्ण रखते है | कई लोगों की तो ऐसी मंशा होती है के अगर बच्चा घर पर रहे तो उसे कोई भी परेशानी या दुःख-तकलीफ नही हो सकती | लेकिन ये बात कुछ हद तक ही सही है |2 साल के बच्चे के सर में यूँ धंस गया पावर प्लग, सर की हालत देख हर कोई दहल उठा

ऐसा हम इसलिए कह रहे है क्योंकि घटना या दुर्घटना कहीं भी, कभी भी और किसी भी तरह से हो सकती है। इसका किसी को पता नही होता | अब आप सोच रहे होंगे के भला घर में कैसे कोई दुर्घटना हो सकती है | बच्चे जब घुटने के बल और फिर धीरे-धीरे चलना सीखते हैं तो पैरंट्स की खुशी देखने लायक होती है।

लेकिन उम्र का यह दौर (6 महीने से 3 साल तक) हादसों के लिहाज से सबसे नाजुक होता है। बच्चे अक्सर चलते-फिरते खुद को नुकसान पहुंचा लेते हैं। पैरंट्स की जरा-सी लापरवाही बच्चो को बड़े बड़े हादसे अ शिकार बना सकती है और कभी कभी तो ये हादसे इतने खतरनाक होते है जिससे मासूम बच्चे की जान भी चली जाती है |तो हम आपको बता दे के आज हम आपको ऐसी ही एक दुर्घटना के बारे में बता रहे हैं | आज जिस दुर्घटना के बारे में हम आपको बताने जा रहे है वो बिल्कल सच है हालाँकि पहली बार में यकीन करना आपके लिए शायद थोडा मुश्किल होगा

दरअसल ये मामला चीन के गुआंगजौ में स्थित एक घर में खेल रहे दो साल के बच्चे चेन चेन  का है जिसके साथ अनजाने में ही  ऐसी खतरनाक घटना घटी जिसके बारे में सुनकर भी दिल दहल उठेगा || आपको बता दे यहाँ पर एक दो साल का बच्चा खेलते-खेलते अचानक बिस्तर से गिर गया और उसके सर में एक पावर प्लग धंस गया जिसके बाद उसके परिजनों ने सही वक्त पर उसे देख लिया जिसके बाद वे अफरातफरी में बच्चे को लेकर अस्पताल गये जहाँ तीन तीन घंटे लंबे ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने अपने सिर से प्लग को सफलतापूर्वक हटा दिया है जिससे इस बच्चे की जान बच गयी है लेकिन ये हादसा इतना खतरनाक था की यदि समय पर बच्चा अस्पताल नहीं पहुंचा तो शायद आज उसकी जान जानी निश्चित थी |

वही इस मामले में डॉक्टरों का कहना है की इतने छोटे बच्चे के सिर इस तरह से चोट का ये पहला मामला था |उनका कहना है की जब उन्होंने बच्चे के सिर का एक्स रे किया तब उन्हें दिखा की ये पावरप्लग  बच्चे के सिर के नाजुक हिस्से में काफी अंदर तक धंस गया था  जिसके बाद डॉक्टर्स ने बड़ी ही सावधानी से उसके सर का ऑपरेशन कर उस पावरप्लग को सर से बाहर किया जिसके बाद ये ऑपरेशन सफल होने की वजह से इस बच्चे की जान बच पाई |

करीब एक हफ्ते हॉस्पिटल में रखने के बाद चेन-चेन का डिसचार्ज कर दिया गया था। डॉक्टर्स ने कहा कि चेन-चेन के साथ घटी घटना हर पेरेंट्स के लिए एक चेतावनी की तरह है। चेन -चेन के साथ घटी इस घटना में माता-पिता ने जरा भी नहीं सोचा होगा कि ऐसे ही खुला पड़ा पॉवर प्लग बच्चे के सिर में घुस जाएगा जो उसकी जान पर बन आएगा|

इस घटना ने हर माता पिता को एक सबक दिया है की कभी भी छोटे बच्चो के आसपास कोई भी ऐसी चीज ना रखे जिससे उन्हें खतरा हो क्योंकि छोटे बच्चे कब कहाँ चले जाये इसका कुछ ठिकाना नहीं रहता और आपकी जरा सी लापरवाही आपके बच्चे की जान की दुश्मन बन सकती है  इसीलिए आपको ही सवाधानी बरतनी होगी जिससे आपके जिगर के टुकड़े पर कभी कोई आंच ना आये