29 साल पहले 12 रनों की चूक को कभी नहीं भूल पाएंगे सचिन तेंदुलकर

- in खेल

‘मास्टर ब्लास्टर’ सचिन तेंदुलकर ने 24 साल के अपने टेस्ट करियर के दौरान कीर्तिमानों की झड़ी लगा दी, लेकिन 29 साल पहले वह आज के ही दिन (12 फरवरी) महज 12 रनों से एक दिलचस्प वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से चूक गए थे. 16 साल 205 दिनों की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने सचिन अपने छठे टेस्ट में शतक बना लेते, तो वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम उम्र में शतक बनाने वाले क्रिकेटर बन जाते.

29 साल पहले 12 रनों की चूक को कभी नहीं भूल पाएंगे सचिन तेंदुलकरदरअसल, न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्षा बाधित नेपियर टेस्ट (9-13 फरवरी 1990) के तीसरे दिन वह 80 रन बनाकर नाबाद थे, अगले दिन यानी 12 फरवरी को उम्मीद की जा रही थी कि 100 रनों का आंकड़ा छूते ही वह सबसे कम उम्र में शतक बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे और पाकिस्तान के मुश्ताक मोहम्मद का रिकॉर्ड टूट जाएगा, जिन्होंने 1961 में सबसे कम उम्र में टेस्ट शतक जमाया था.

… लेकिन, सचिन को निराशा हाथ लगी, वह शतक से महज 12 रन दूर रह गए. वह 88 रनों पर थे, तभी डैनी मॉरिसन की गेंद पर उन्हें जॉन राइट ने लपक लिया, जिन्होंने बाद में भारत के कोच के तौर (2000-2005) पर उनका मार्गदर्शन किया.

खैर, सचिन को पहला टेस्ट शतक जमाने के लिए और छह महीने का इंतजार करना पड़ा, जब उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर टेस्ट में अगस्त 1990 में 119 रनों की नाबाद पारी खेली. मौजूदा रिकॉर्ड की बात करें, तो वह तीसरे सबसे कम्र उम्र में शतक जमाने वाले टेस्ट क्रिकेटर हैं.

TOP-3: सबसे कम उम्र में टेस्ट शतक जमाने वाले बल्लेबाज

1. मोहम्मद अशरफुल- (बांग्लादेश)- 114 रन, 17 साल 63 दिन, 2001

2. मुश्ताक मोहम्मद (पाकिस्तान)- 101 रन, 17 साल 82 दिन, 1961

3. सचिन तेंदुलकर (भारत) 119* रन- 17 साल 112 दिन, 1990

मजे की बात है कि मुश्ताक मोहम्मद ने 1961 में आज ही (12 फरवरी) भारत के खिलाफ दिल्ली टेस्ट में 101 रन बनाकर सबसे कम उम्र (17 साल 82 दिन) में शतक जमाने का रिकॉर्ड बनाया था, जो 40 साल तक उनके नाम रहा. बांग्लादेश के मो. अशरफुल ने 2001 में श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में 17 साल 63 दिनों की उम्र में शतक जमाकर मुश्ताक का रिकॉर्ड तोड़ा था.