तोलांगुलासन शरीर को बनाता है लचीला

- in जीवनशैली

आसनों के बहुत सारे फायदे होते है और यह शरीर के साथ मनन को भी प्रसन्न रखता है. तोलांगुलासन एक ऐसा आसन है जिसके अभ्यास से मेरूदंड लचीला होता है और पेट से संबंधित ज्यादातर बीमारियों ठीक होने लगती हैं, शरीर को मजबूती देता है और कंधे मजबूत और पुष्ठ होते हैं। गर्दन का दर्द और पीठ का दर्द भी इस आसन से ठीक हो जाता है। हाथों की नसों में खून का संचार ठीक तरह से होता है। सांस से सम्बन्धित बिमारी से ग्रसित या रिड की हड्डी में तकलीफ वाले लोगों को यह आसन बिना चिकित्सकीय सलाह के नहीं करना चाहिए।

तोलांगुलासन शरीर को बनाता है लचीला

इस आसन को करने के लिए दरी या चटाई बिछाकर उस पर बैठ जाएं। अब पीठ के बल लेटने के बाद दोनों हाथों को नितंबों के नीचे रखें अपने धड़ को इस तरह उठाये जिससे शरीर का भार कोहनियों के उपर आ जाए। अब पैरों को भी उपर की ओर उठा लें ताकि पूरा शरीर हाथों और नितंबों पर टिक जाए। अब लंबी सांस लेते हुए अपने अपनी ठोड़ी से गलें को दबाएं। थोड़ी देर इस स्थिती में बने रहने की कोशिश करें। सांस को बाहर की ओर छोड़ते हुए वापस पहले वाली स्थिती मे आ जाएं।