एक गोली एक दुश्मन

100 बटालियन, एनसीसी का संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण  शिविर – 313
टीएससी टीम फायरिंग पर, छात्र सैनिकों ने छेडा स्वच्छता अभियान
प्रतियोगिताओं में छात्र सैनिकों ने दिखाया अपना कौशल, तैयारी योग दिवस की
वाराणसी। ‘‘सर्वोतम निशानेबाजी के लिए तीन बुनियादी उसूल है। दुरूस्त शिस्त ( निशाना ) – दुरूस्त पकड – और दुरूस्त ट्रेगर आपरेशन। सबकुछ यदि सही है तो सवाल ही नहीं उठता कि गोली निशाने पर न लगे। याद रख्खें निशानेबाजी कुदरती नहीं वरन अभ्यास का प्रतिफल है। हर गोली इस एहसास के साथ फायर करें – एक गोली एक दुश्मन।’’ फायरिंग के पूर्व इंस्ट्रक्टर द्वारा दिया गया यह वह टिप है, जिसके आधार पर छात्र सैनिक उदय प्रताप कालेज स्थित फायरिंग रेज पर निशानेबाजी का अभ्यास कर रहें हैं। सोमवार को थल सैनिक कैम्प के लिए चयनित छात्र सैनिकों ने रेंज पर फायरिंग खोली। दिन में छात्र सैनिकों की पूरी टुकडी विद्यालय परिसर की स्वच्छता अभियान पर जुटी रही। परिसर की साफ-सफाई देखने लायक है। प्रातःकालीन बेला में कैडेट लगातार योगाभ्यास पर लगे हुए है। शिविर में चल रही प्रतियोगिताओं का परिणाम चैथे दिन से आना प्रारम्भ हो गया। ‘‘ आतंकवाद की समस्या का समाधान बातचीत से ही सम्भव है ’’ विषय पर आधारित वाद – विवाद प्रतियोगिता में विषय के पक्ष में बोलते हुए बे्रभो और ईको कम्पनी के केएन द्विवेदी एवं सुचिका विजेता रहे। डेल्टा कम्पनी के आकाश चैबे को उपविजेता पद से ही संतोष करना पडा। विषय के विपक्ष में बोलते हुए फाक्स कम्पनी की साक्षी सिंह विजेता और ईको कम्पनी की अर्चना सिंह उपविजेता रही।
वालीवाल प्रतियोगिता में डेल्टा विजेता तथा ब्रेभो कम्पनी उपविजेता रही। ‘‘ बेरोजगारी समस्या और समाधान ‘‘ विषयक भाषण प्रतियोगिता के अन्र्तगत फाक्स कम्पनी की पल्लवी द्विवेदी प्रथम स्थान पर रही। अल्फा के मयंक तिवारी को द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ।सायंकालिन सत्र में विशिष्ट व्याख्यान के अन्र्तगत ‘‘ पीस फार यूथ’’ के सदस्यों ने पुनित कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में एक वृतचित्र के माध्यम से छात्र सैनिकों को तनाव रहित जीवन यापन का सूत्र दिया। इस उद्घोष वाक्य के साथ कि ‘‘ शांति प्रत्येक व्यक्ति का आंतरिक पक्ष है नकि वाह्य’’। इस अवसर पर इस अवसर पर कैम्प कमांडेंट कर्नल बहादुर सिंह,  डिप्टी कैम्प कमांडेंट ले. कर्नल नन्दा बल्लभ, दंडाधिकारी कैप्टन ओम प्रकाश सिंह, ट्रेनिंग आफिसर प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, सूबेदार मेजर कुलदीप सिंह, कैप्टन गणेश सिंह,डा. जी.के.सिंह, रामजन्म सिंह,ए.के.सिंह, सूबेदार संजय शुक्ला, जयन्त सिंह, नायब सूबेदार दृगपाल सिंह,  प्रदीप सिंह, जय सिंह, हेड क्र्लक हेमराज मिश्र, आनन्द नारायण, रवि कुमार  तथा पीआई स्टाफ मौजूद था।

loading...