विपक्षी एकजुटता के लिए आज फिर बैठक, सोनिया ने जेडीयू को भी बुलाया

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी विपक्षी एकता के लिए कई दिनों से कोशिश कर रही है. नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ हाथ मिलाकर बिहार के फिर सीएम बन जाने के बाद विपक्षी एकजुटता को परखने के लिए सोनिया गाँधी ने आज फिर बैठक बुलाई है जिसमे जेडीयू को भी आमंत्रित किया गया है. कांग्रेस को भरोसा है कि जदयू सहित एक बार फिर 18 पार्टियां बैठक में शामिल होंगी.विपक्षी एकजुटता के लिए आज फिर बैठक, सोनिया ने जेडीयू को भी बुलाया   गौरतलब है कि बिहार में भले ही महागठबंधन टूट गया और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ सरकार बना ली हो, लेकिन कांग्रेस ने अभी जदयू को अपनी सूची से बाहर नहीं किया है. इसीलिए कांग्रेस अध्यक्ष ने सभी विपक्षी पार्टियों को न्योता दिया है.एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि हमने जदयू को बुलाया है तो जदयू नेता ही बैठक में मौजूद रहेंगे.जबकि सूत्रों के अनुसार कांग्रेस ने राज्यसभा में जदयू नेता शरद यादव को आमंत्रित किया है. शरद यादव ने वैसे भी नीतीश के खिलाफ अपनी मंशा और बगावती तेवर दिखा दिए हैं. शरद यादव को तो जदयू से निकाले जाने की भी चर्चा चल रही है.

बता दें कि शरद यादव अब भी खुद को महागठबंधन के साथ बता रहे हैं. शरद यादव ने गुजरात राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार अहमद पटेल की मदद कर पहले ही संकेत दे दिए हैं. उनके समर्थकों का दावा है कि 14 राज्यों के पार्टी अध्यक्ष शरद यादव के पक्ष में हैं. ऐसे में स्पष्ट है कि कांग्रेस जदयू के नाम पर शरद यादव का समर्थन और रिश्ता बनाना चाहती है.