विजयपत सिंघानिया ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती

- in फीचर्ड, व्यापार

4 अक्टूबर 1938 को कानपुर में जन्मे रेमंड कंपनी के संस्थापक और पद्म भूषण विजयपत सिंघानिया को सीने में तेज दर्द की शिकायत के बाद ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डॉक्टरों के अनुसार सिंघानिया की स्थिति सामान्य नहीं थी. सिंघानिया ने गत वर्ष मार्च में लंदन में कोरोनरी बाईपास सर्जरी कराई थी.

बड़ी खबर: अभी-अभी फ़ोन से मिली सीएम योगी को जान से मारने की धमकी

विजयपत सिंघानिया ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्तीउल्लेखनीय है कि गुरुवार को जब 79 वर्षीय सिंघानिया जब साउथ मुंबई क्लब में थे तो शाम को साढ़े छह बजे के करीब उन्हें तकलीफ होने पर अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद उच्च रक्त चाप होने से उन्हें 48 घंटे डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है. बता दें कि करीब एक हफ्ते पहले ही करीब 10 अरब मूल्य वाली रेमंड कंपनी अपने बेटे के नाम कर देने वाले सिंघानिया ने बॉम्बे हाई कोर्ट में गुहार लगाई कि उनके बेटे ने उन्हें पाई-पाई के लिए मोहताज कर दिया है. यह अब मामला कोर्ट में है. सिंघानियां के वकील मदान के अनुसार विजयपत सिंघानिया से कार और ड्राइवर तक छीन लिए हैं.

राहुल गाँधी का गोरखपुर दौरा कल,मृतक बच्चों के परिवार से मिलेंगे

जैसा कि पता ही है कि रेमंड कपड़ा उद्योग की देश की सबसे बड़ी कम्पनी होने के साथ देश के लगभग हर प्रमुख शहर में रेमंड के शोरूम हैं. विजयपत सिंघानिया को कारोबार के अलावा एविएशन का भी शौक हैं. वो 67 साल की उम्र में हॉट बैलून में उड़ान भरके विश्व रिकॉर्ड बना चुके हैं. वे मुंबई के शेरिफ भी रह चुके हैं, आईआईएम अहमदाबाद के गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन रहने के साथ ही भारतीय वायुसेना ने उन्हें एयर कमॉडोर की मानद उपाधि दी है. इसके अलावा वो ब्रिटेन के रॉयल एयरो क्लब के भी सदस्य हैं.