20 दिन के शावक को छोड़ भागी मादा तेंदुआ, फिर क्या किया गांव वालों ने उसके साथ

बहराइच वन प्रभाग के रेंहुआ मंसूर गांव के निकट एक मादा तेंदुआ अपने दो शावकों के साथ शुक्रवार सुबह शिकार की तलाश में पहुंच गई। 
 

ग्रामीणों की नजर पड़ते ही बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे हो गए और उसे पकड़ने के लिए घेराबंदी शुरू कर दी। घेराबंदी से घबराई मादा तेंदुआ अपने एक शावक को लेकर पास ही गन्ने के खेत में घुस गई, जबकि एक शावक को गांव वालों ने पकड़ लिया।
 

मौके पर पहुंचे वन विभाग के अधिकारियों ने शावक को अपने कब्जे में ले लिया। पकड़ा गया शावक 20 दिन का बताया जा रहा है। गांव वालों के लिए शावक कौतुहल का केंद्र बना रहा। लोग उसे अपने हाथों से खिलाते रहे।
 

वन विभाग के अधिकारियों ने मादा तेंदुए की तलाश के लिए अभियान शुरू कर दिया है। 

उनका मानना है कि अपने शावक के लिए वह दोबारा गांव का रुख कर सकती है। उसे पकड़ने के लिए पिंजरा मंगवाया गया है। साथ ही तलाश के लिए कांबिग भी शुरू कर दी गई है।