‘मेक इन यूपी’ के बिना ‘मेक इन इण्डिया’ सम्भव नहीं

दस्तक टाइम्स / एजेंसी

cm akhileshलखनऊ/मुम्बई। उत्तर प्रदेश में निजी निवेश को आकर्षित करने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में गुरूवार को मुम्बई के होटल ट्राईडेन्ट में राज्य सरकार द्वारा निवेशक सम्मेलन आयोजित किया गया। इस दौरान उद्यमियों ने विभिन्न सेक्टरों में प्रदेश में 51098 करोड़ रुपये के निवेश के आशय प्रस्तावित किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश विकास के मामले में काफी आगे है। अब विकास को लेकर उत्तर प्रदेश तथा महाराष्ट्र में प्रतिस्पर्धा है। लगभग 200 भारतीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय निवेशकों व कई बिज़नेस समूहों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ”मेक इन इण्डिया तभी सफल हो पाएगा जब ‘मेक इन यू.पी.’ सफल होगा, क्योंकि उत्तर प्रदेश न केवल देश का सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य है, बल्कि भारत का सबसे बड़ा बाज़ार भी है।“ उन्होंने कहा, ‘‘राज्य की निवेश नीतियाँ, अच्छे यातायात के साधन, बढ़ती हुई ऊर्जा क्षमता और अन्य सामाजिक सेवायें निश्चित रूप से दूसरे राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेष बेहतर है।’’ श्री यादव ने कहा कि मेरी सरकार उत्तर प्रदेश को प्रगतिशील और समृद्ध बनाने के लिए कृतसंकल्प है और इसलिए कई नई योजनाएं और परियोजनाएं शुरू की गई हैं।
सामाजिक व आर्थिक विकास के लिए अवस्थापना सुविधाओं के महत्व पर जोर देते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक अवस्थापना विकास के लिए सरकार आईटी पार्क, मेगा फूड पार्क, लाॅजिस्टिक्स हब, प्लास्टिक सिटी, बायोटेक औद्योगिक पार्क एवं इण्टीग्रेटेड इण्डस्ट्रियल टाउनशिप्स स्थापित कर रही है। आगरा से लखनऊ के बीच विकसित किए जा रहे 302 किमी लम्बे एक्सप्रेसवे के लिए बिना किसी बाधा के भूमि के प्रबन्ध का उल्लेख करते हुए श्री अखिलेश यादव ने कहा- ‘‘हमने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के लिए ज़मीन के मालिकों की सहमति से पूरी ज़मीन का इंतज़ाम सफलतापूर्वक बिना किसी विवाद के कर के दिखाया है। इसमें 10 जिलों में कुल 3059 हेक्टेयर्स ज़मीन का इंतजाम किया गया।’’ उन्होंने कहा कि देश का सबसे बड़ा बाजार गुजरात नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश है। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में भाग ले रहे निवेशकों से कहा कि उप्र को अखबारों और टेलीविजन में आयी खबरों के हिसाब से न देखें। उन्होंने कहा कि खबरों में दिखाया जाने वाला उप्र बिल्‍कुल सही नहीं है।

अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जहां कई भगवानों का जन्म हुआ। यही नहीं इस प्रदेश से ही देश का प्रधानमंत्री भी बनता है। उन्होंने कहा कि गेहूं और दूध की सबसे ज्‍यादा पैदावार उत्तर प्रदेश में ही होती है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा और कहा कि देश के गृहमंत्री के संसदीय क्षेत्र लखनऊ में मेट्रो का निर्माण हो रहा है, लेकिन प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में नहीं। उन्होंने कहा कि यह अच्‍छा नहीं लग रहा है। ऐसे में जल्‍द ही वाराणसी में भी मेट्रो दौड़ाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राज्य में फिल्म प्रोडक्शन को बढ़ावा देने के लिए विशेष रूप से तैयार किये गए सिंगल विण्डो सिस्टम का भी शुभारम्भ किया।