Friday, April 27, 2018 - 2:00 AM

साहित्य

दस्तक-विशेष साहित्य

निश्रुति पर मानों इस समय कोई वज्रपात हुआ हो। हाय ईश्वर! इसलिए ये रोज़ मुझे टालता रहा। बन्द कमरे में जो भी हुआ उससे तो वो आहत थी ...
Comments Off on जवाब
दस्तक-विशेष साहित्य

नई सदी के प्रारंभ के चार-पाँच वर्षों में हिन्दी कहानी एकदम से चेहरा बदल कर सामने आई। यह जो परिवर्तन दिखाई दिया, यह उन युवा कहानीकारों के कारण ...
Comments Off on चौपड़े की चुड़ैलें’
राष्ट्रीय साहित्य

युवा लेखक सृजन पाल सिंह द्वारा भ्रष्टाचार पर लिखी किताब का विमोचन  नई दिल्ली। देश के जाने-माने समाजसेवी अन्ना हजारे ने युवा लेखक सृजन पाल सिंह द्वारा भ्रष्टाचार ...
Comments Off on भ्रष्टाचार जैसे ज्वलंत मुद्दे पर समाधानप्रेरक है पुस्तक ‘द ब्लैक टाइगर’: अन्ना हजारे
दस्तक-विशेष राष्ट्रीय साहित्य

डॉ. मुकेश कुमार की किताब ‘फेक एनकाउंटर’ का लोकार्पण दस्तक ब्यूरो नई दिल्ली। कोई भी सर्व सत्तावादी जिस चीज़ से सबसे ज़्यादा डरता है वह है व्यंग्य। वह ...
Comments Off on आज के समय में व्यंग्य लिखना जोख़िम भरा काम और मुकेश कुमार ने ये दुस्साहस किया -उदयप्रकाश
राष्ट्रीय साहित्य

पुस्तक समीक्षा- फ़ेक एनकाउंटर  लेखकः  डॉ. मुकेश कुमार प्रकाशकः  शिवना प्रकाशक, सम्राट कॉम्पलेक्स बेसमेंट, बस स्टैंड, सीहोर (म. प्र.) पृष्ठ संख्याः 312 मूल्यः 300 रु. साहित्य गंभीर होता ...
Comments Off on पाठकों को बाँधने की ग़ज़ब की टेक्नीक का इस्तेमाल किया है डॉ. मुकेश कुमार ने
दस्तक-विशेष साहित्य

जीवन सत्य है और मृत्यु उस सत्य का अंत। हम उम्र भर जिसे छाया या छलावा समझते रहते हैं, वास्तव में वही सच है, अंतिम सच। इस सच ...
Comments Off on आर न पार (कहानी)
दस्तक-विशेष साहित्य

आपातकाल : स्वातंत्र्योत्तर भारतीय इतिहास का संक्रमण काल। एक निरंकुश सत्तालोलुप शासक द्वारा लोकतंत्र पर कुठाराघात और अधिनायकवादी व्यवस्था थोपने का काल। लाखों निरपराध नागरिकों के बिना किसी ...
Comments Off on आपातकाल: आगे की कथा…
दस्तक-विशेष साहित्य

परितोष कुमार ‘पीयूष’ वो अजीब लड़की’ (कहानी संग्रह) प्रियंका ओम की पहली पुस्तक है। कुंठित मानसिकता के सारे ठिकानों पर धावा बोलती हुई, तमाम पोषित सामाजिक वर्जनाओं को ...
Comments Off on अंत: तक झकझोरती ही नहीं बल्कि सोचने पर विवश करती हैं कहानियां
दस्तक-विशेष राष्ट्रीय साहित्य

अबकी बार तो मुझे पक्का भरोसा है , निशा मौसी का नाम जरूर गिनीज बुक में दर्ज होगा . शाम को तलाक , रात होने से पहले सगाई ...
Comments Off on चट तलाक –पट ब्याह
दस्तक-विशेष साहित्य

एक नौका विस्तृत सागर में यूँ स्वयं को लहरों के हवाले कर देती है जैसे कोई अपने किसी परम मित्र पर विश्वास कर समस्यायों से लड़ने की हिम्मत ...
Comments Off on अथाह सागर और हम!