Breaking News

स्तम्भ

दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ

हृदयनारायण दीक्षित : जीवन दिक्काल में है। कभी कभी काल का अतिक्रमण भी करता है जीवन इसलिए जीवन की कालगणना सतही है। कालगणित के पैमाने पर कोई 100 वर्ष ...
Comments Off on सम्पूर्णता से खिलने के लिए दीर्घजीवन जरूरी नहीं
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ

हृदयनारायण दीक्षित : सभी जीव मां का विस्तार हैं। मां न होती तो हम भी न होते। मां सृष्टि की प्रथम अनुभूति है। ऋग्वेद में मां की अनुभूति ...
Comments Off on ‘पृथ्वी माता है और आकाश पिता’
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित : धर्म प्राकृतिक व्यवस्था है। भारत की धर्म देह विराट है। यह संपूर्ण अस्तित्व को आच्छादित करती है। इसलिए धर्म का बौद्धिक विवेचन निर्वचन जटिल है। ...
Comments Off on प्राकृतिक व्यवस्था है धर्म
दस्तक-विशेष स्तम्भ

ईश्वर ने प्रत्येक बच्चे को अलग एवं विशिष्ट बनाया है बच्चे ही विश्व में सामाजिक परिवर्तन ला सकते हैं : बच्चे ही संतुलित एवं उद्देश्यपूर्ण शिक्षा के माध्यम ...
Comments Off on प्रत्येक बच्चे को सारी मानवजाति की सेवा के लिए तैयार करें : डाॅ. जगदीश गाँधी
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ

संन्यासी जीवन जीकर संसार में लोक कल्याण की मिसाल प्रस्तुत करने वाले महापुरूषों की मानव जाति सदैव ऋणी रहेगी! लखनऊ : विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरूआत 11 ...
Comments Off on 11 जुलाई : विश्व जनसंख्या दिवस पर विशेष लेख
दस्तक-विशेष स्तम्भ

अध्यात्म एवं विज्ञान में समन्वय से विश्व की समस्याओं का होगा समाधान! भारत के महानतम समाज सुधारक, विचारक और दार्शनिक स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी, 1863 को कलकत्ता ...
Comments Off on 4 जुलाई : स्वामी विवेकानन्द की पुण्यतिथि पर शत् शत् नमन!
दस्तक-विशेष स्तम्भ

लखनऊ : अंगदान मामले में भारत की स्थिति अन्य देशों के मुकाबले काफी खराब हुई है। जनता में जागरूकता के अभाव के साथ धार्मिक एवं रूढ़िवादी सोच के ...
Comments Off on 13 अगस्त को अंगदान दिवस : जागरूकता अभियान अभी से जोर पकड़े, ताकि बच सके लाखों जिंदगियां
दस्तक-विशेष स्तम्भ

अभी जहाँ कांग्रेस को अपनी गुटबाजी से बाहर निकलने की ही फुर्सत नहीं मिल पाई है , वहीँ हाल के लोकसभा चुनावों में दस की दस सीटें जीतकर ...
Comments Off on क्या हरियाणा में भाजपा जा पायेगी 75 पार ?
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित : वेद लोकमान्य हैं। ऋग्वेद प्राचीनतम है ही। प्राचीनतम को जानने की रूचि स्वाभाविक हैं। विश्व के सभी देशों में ऋग्वेद को समझने की रूचि बढ़ी ...
Comments Off on हजारों वर्ष प्राचीन और परिपूर्ण है ऋग्वेद
दस्तक-विशेष साहित्य स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित : अग्नि ऋग्वेद के प्रतिष्ठित देवता हैं। ऋग्वेद के मंत्रोदय के पहले से ही भारत के लोग अग्नि उपयोग व तत्वदर्शन से सुपरिचित थे। वैदिक ऋषियों ...
Comments Off on ऋग्वेद में अग्नि उपासना