छोटे-छोटे पासों से भारतीय लड़कियों ने फ्रांस को दी मात

- in TOP NEWS, खेल, लखनऊ
लखनऊ।  रोमांचक मुकाबले में कड़ी टक्कर के बाद भारतीय महिला जूनियर ए हॉकी टीम ने इंडो-फ्रेंच हॉकी सीरीज के तीसरे मैच में फ्रांस की टीम को 2-0 से मात दी। मो.शाहिद सिंथेटिक हॉकी स्टेडियम में दूधिया रोशनी में खेले गए इस मुकाबले में लखनऊ की मुमताज खान का भी कमाल दिखा जिन्होंने शुरूआती गोल दागकर प्रतिद्वंद्वी टीम पर दबाव बनाया। इस जीत के साथ ही मेजबान टीम ने सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली।
इस मैच में भारत और फ्रांस की टीमों ने सधी हुई शुरुआत की। भारतीय लड़कियों ने शुरूआत में थोड़ा रक्षात्मक होने के बाद आठवें मिनट में रणनीति बदली और प्रतिद्वंद्वी के गोलपोस्ट पर कई हमले किए लेकिन गोल नहीं कर सकी। वहीं मेहमान टीम भी कोई गोल नहीं दाग सकी।
पहला और दूसरा क्वार्टर गोल रहित होने के बाद भारतीय टीम को मुमताज ने शुरूआती बढ़त दिलाई। मुमताज ने खेल के 42वें मिनट में मुमताज ने फ्रांसीसी डिफेंडरों को छकाकर पहला गोल किया। उन्हांेंने फ्रेंच डिफेंस में सेंध लगाई। मुमताज ने बाए छोर से मिले मिले पास को बड़ी चतुराई से आगे बढ़ाया औरऐसी शॉट मारी की गेंद सीधे गोल पोस्ट में जा घुसी।
इस दौरान फ्रांस को कई मौके मिले लेकिन गोल में तब्दील नहीं हो सके। वहीं, खेल खत्म होने में महज दो सेकंड का समय बाकी था कि तभी  मेजबान के लिए दूसरा गोल शर्मिला देवी ने किया।
सीरीज के तीसरे मैच में 2-0 से दर्ज की जीत, सीरीज में बनाई 2-1 की बढ़त
इस मैच में भारतीय लड़कियों ने छोटे-छोटे पासों का सहारा लिया तो मेहमान टीम ने लंबे पास से खेलने की रणनीति अपनाई।
इस मैच में भारत की टीम ने पहले पहले क्वार्टर में ताबड़तोड़ हमले कर विपक्षी खेमे में हलचल तो मचा दी लेकिन फ्रांस की सजग रक्षापंक्ति को भेदने में सफल नहीं हो सकीं। खेल के पांचवें मिनट में बलजीत कौर के पास पर मुमताज खान के शॉट को फ्रांसीसी गोलकीपर ने रोक लिया।  खेल के 13वें मिनट में भारत को पहली पेनाल्टी कार्नर मिली। जिसे गगनदीप कौर ने बाहर मार दिया। भारत की ज्योति को खेल के 14वें मिनट में गोल करने का एक बेहतरीन मौका मिला, जिसे फ्रांसीसी गोलकीपर ने डाइव लगाकर रोका। भारत को इस मैच में पांच पेनाल्टी कार्नर मिले, जिसे एक भी गोल में तब्दील नहीं कर सकी। वहीं फांस को खेल के 38वें मिनट में एक पेनाल्टी कार्नर मिली। फ्रांस की टीम आज के मैच में रंग में नहीं दिखी। उसकी टीम ने गोल करने के कई सुनहरे मौके गंवाए। भारतीय गोलकीपर बिच्चू देवी ने कई सुंदर बचाव किए।
भारत ने इस जीत के साथ ही लखनऊ में खेले गए पहले टेस्ट में फ्रांस के हाथों मिली 1-0 गोल से हार का बदला भी चुकता कर लिया। सीरीज के गोरखपुर में हुए दूसरे मैच में मेजबान टीम ने जीत दर्ज की। इन दोनों टीमों के बीच चौथा और आखिरी मैच बुधवार को होगा। अगर भारतीय टीम मैच जीत जाती है तोे वह सीरीज अपने नाम कर लेगी लेकिन अगर फ्रांस मैच जीतता है तो सीरीज ड्रा हो जाएगी।