इस महिला ने की 11 शादियां तो, अदालत ने सुनाया दिल दहलाने वाला फरमान

एजेंसी: हर देश यहां तक कि अलग अलग समाज के भी अपने नियम और रीति रिवाज होते है। लेकिन इस्मालिक देशों में काफी कठोर कानून व्यवस्था है जहाँ पर छोटी से गलती इंसान के लिए महंगी पड़ जाती है। ऐसे ही एक इस्लामिक देश सोमालिया में एक कट्टरपंथी विचारधारा वाला एक इस्लामिक गुट सक्रिय है जो कि उनके मज़हब के खिलाफ जाने वाले लोगों को दण्डित करता है।

इस महिला ने की 11 शादियां11 शादियां मिली मौत की सजा:
सोमनिया में इस इस्लामिक कट्टरवादी गुट का नाम अल-शबाब है जो कि वहां के लोगों काफ़ी जुल्म करता है। हाल ही में इस इस्लामिक कट्टरवादी गुट अल-शबाब की शरिया अदालत ने 30 साल महिला को बेरहमी से मार डाला क्यूंकि उसने अपने जीवन में 11 बार शादी की थी।

पत्थर मारकर की मौत:
सोमनिया की शरिया अदालत ने 30 वर्षीय महिला शुक्ररी अब्दुलाही नाम की महिला को 11 शादियां करने के आरोप में पत्थर मार मारकर मौत के घाट उतारने की सजा सुनाई। शरिया अदालत के स्व-घोषित न्यायाधीश ने कहा कि महिला ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को स्वीकार किया।

ये है महिला पर आरोप:
महिला पर आरोप था कि उसने 11 शादियां की और अपने किसी भी पति को कभी तलाक नहीं दिया। बतौर सजा महिला को पहले गर्दन तक जमीन में गाड़ दिया गया और फिर अल-शबाब के लड़ाकों ने उसकी पत्थर मार-मार कर जान ले ली।