#Shocking: दो साल से टॉयलेट नहीं गया ये शख्स, वजह जानकर उड़ जायेंगे होश

- in अजब-गजब

दोस्तों जिंदगी जीने का असली मज़ा तभी आता हैं जब आपका शरीर सेहतमंद हो. लेकिन कई बार अलग अलग कारणों की वजह से इंसान को ऐसी बीमारियाँ हो जाती हैं कि वो अपनी लाइफ खुल के एन्जॉय नहीं कर पाता हैं. दरअसल जब किसी व्यक्ति को कोई गंभीर या अनोखी बीमारी घेर लेती हैं तो ये उसके शरीर के साथ साथ उसके दिमाग पर भी नकारात्मक असर डालती हैं. ये बिमारी उन्हें शारीरिक दर्द के साथ साथ मानसिक तनाव भी प्रदान करती हैं.

इसी कड़ी में आज हम आपको एक ऐसी बिमारी के बारे में बताने जा रहे जिसके बारे में सुन आपका दिल सहम जाएगा. दरअसल आज हम आपको Ste Walker नाम के एक 24 वर्षीय शख्स की दर्दनाक कहानी सुनाने जा रहे हैं. Ste Walker नाम का यह व्यक्ति West Yorkshire के Halifa का रहने वाला हैं. बात दरअसल साल 2012 की हैं जब पहली बार 24 वर्षीय Ste Walker को Crohn नाम की एक दुर्लभ बिमारी हो गई. इस बिमारी की वजह से उसकी जिंदगी नर्क जैसी हो गई. जल्द ही वो काफी डिप्रेशन में जाने लगा और उसकी सेहत में गिरावट आने लगी. लेकिन इन सबके बीच हैरानी की बात ये रही कि Ste Walker ने इतनी आसानी से हार नहीं मानी. उसने इस बिमारी से फाइट करने का फैसला लिया. उसकी ये कहानी सुन आपको जरूर प्रेरणा मिलेगी.

Ste Walker को Crohn नाम की एक बीमारी ने घेर लिया था. Crohn आँतों से सम्बंधित एक बिमारी होती हैं. इस बिमारी की वजह से हमारे पाचन तंत्र में सूजन आ जाती हैं. ये बिमारी इतनी भयानक थी कि Ste Walker दो सालों तक टॉयलेट नहीं जा पाया. लेकिन इस शख्स ने अपनी बिमारी से हार ना मानते हुए इससे लड़ने का फैसला किया. आपको जान हैरानी होगी कि Ste Walker अपनी दो साल की इस बिमारी में 80 से अधिक बार सर्जरी करवा चुके हैं. हर बार सर्जरी में उनकी सूज चुकी आँतों को मीटर बाय मीटर निकला जाता था. इस बिमारी की वजह से वे 2012 से लेकर 2014 तक एक बार भी टॉयलेट नहीं गए थे.

इस दौरान जब भी Ste Walker की सर्जरी होती तो डॉक्टर उनके पाचन तंत्र में जमा मल को बाहर निकाल देते. हालाँकि ये सब होने के बाद भी Ste Walker बाहरी रूप से काफी हैल्थी दिखाई देते थे. इस वजह से लोगो को कई बार शक होता था कि Ste अपनी बिमारी का फायदा उठा कर लोगो की सहानुभूति लेना चाह रहे हैं. जब वो सोशल मीडिया पर अपनी रस्वीरें डालते थे तो लोगो की आलोचना के कई कमेन्ट आते थे. ऐसे में Ste को हर बार उन्हें अपनी बिमारी के बारे में डिटेल में समझाना होता था.

उन्होंने अपनी इस बिमारी की कहानी को सोशल मीडिया पर भी शेयर किया हैं. Ste Walker की जगह कोई और होता तो इस बिमारी की वजह से हार मान अपनी जिंदगी तबाह कर लेता. लेकिन Ste ने उम्मीद नहीं छोड़ी और इस बिमारी से निपटने की ठान ली. अब आलम ये हैं कि वे दुसरे लोगो को भी अपनी बिमारियों से लड़ने की प्रेरणा देते हैं. इस चीज के लिए वे अमेरिका में एक कैम्पेन भी चला रहे हैं.