Watsapp ने मान ली RBI की ये बड़ी शर्त, अब देश में ही रखेगा पेमेंट संबंधी सभी डाटा

- in व्यापार

व्हाट्सऐप मैसेंजर एक ऐसी व्यवस्था है जिसके द्वारा हम अपने संबंधियों दोस्तों से मेसेज के माध्यम से आसानी से बात कर सकते है। ये स्मार्टफोनों पर चलने वाली एक फेमस मेसेंजिग ऐप है। हम इससे टेक्स्ट मैसेज के अलावा ऑडियो क्लिप, फोटोज , वीडियोज और अपनी लोकेशन भी भेज सकते है। ये पहली बार 2009 में जारी हुआ था।

Watsapp ने मान ली RBI की ये बड़ी शर्त, अब देश में ही रखेगा पेमेंट संबंधी सभी डाटाआजकल तो जिसके पास स्मार्टफोन है। सबके पास ये ऐप रहता ही है। सबसे ज्यादा व्हाट्सऐप भारत में यूज़ होता है। व्हाट्सऐप की सबसे अच्छी बात ये है की इस पर और ऐप्स की तरह किसी भी कंपनी का ऐडवरटाइजमेंट नहीं आता। इसमें अलग-अलग 53 भाषाओ का यूज कर सकते है।

व्हाट्सऐप ने बहुत तेजी से ग्रोथ किया है, इतनी तेजी से किसी भी कम्पनी ने नहीं किया। इस ऐप का ये फायदा है की मैसेज, वीडियो, ऑडियो जो हम किसी को भेजते है उसका हमे कोई चार्ज नहीं देना होता है। इसके द्वारा हम किसी को , जिनके स्मार्टफोन में ,व्हाट्सऐप है, उनको कॉल कर सकते है और वीडियो कॉल भी कर सकते है । आए दिन व्हाट्सऐप में बहुत सारे नए-नए यूजफुल फीचर्स आते रहते है। जो की हम व्हाट्सऐप को अपडेट कर प्राप्त कर सकते है।

इस सबसे फेमस मैसेजिंग रूप ने कहा की भारतीय रिज़र्व बैंक के निर्देशों के मुताबिक देश के अंदर ही पेमेंट सम्बन्धी डाटा रखने का सिस्टम स्थापित करने का फैसला किया है। आरबीआई ने ऐसा करने के लिए 15 अक्टूबर तक का समय दिया था। हमारे देश में लगभग 10 लाख लोग एक-दूसरे को पैसा भेजने के लिए व्हाट्सऐप की पेमेंट सिस्टम का उपयोग कर रहे है। आरबीआई के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए एक सिस्टम बनाया गया है। जो की पेमेंट संबन्धी सभी डाटा का भारत में ही सुरक्षित रूप से रखा जाना है। आरबीआई ने कहा है की ये सेवा जल्द ही पूरी देश में शुरु की जाएगी।