Breaking News

स्तम्भ

दस्तक-विशेष स्तम्भ

बृजनन्दन राजू आखिर कब मिलेगी भाषाई दासतां से मुक्ति स्तम्भ : देश को अंग्रेजों से आजादी मिलने के बाद शिक्षा के क्षेत्र में निश्चित ही भारत ने बहुत ...
Comments Off on मातृभाषा में होनी चाहिए शिक्षा
दस्तक-विशेष स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित स्तम्भ : काम प्रकृति में सर्वव्यापी है। प्राकृतिक है। प्रकृति की सृजनशक्ति है। प्रत्येक शक्ति का नियमन भी होता है। नियमविहीन शक्ति अराजकता में प्रकट होती ...
Comments Off on काम कामनाओं का बीज है
दस्तक-विशेष स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित स्तम्भ : राष्ट्र प्राचीन वैदिक धारणा है और नेशन आधुनिक काल का विचार है। राष्ट्र के लिए अंग्रेजी भाषा में कोई समानार्थी शब्द नहीं है। ई.एच. ...
Comments Off on नेशन और राष्ट्र पर्यायवाची नहीं हैं
दस्तक-विशेष स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित स्तम्भ : भूमि और सभी प्राणी परस्पर अन्तर्सम्बन्धित हैं। यह नेह मां और पुत्र जैसा है। वैदिक साहित्य में इस सम्बंध का अनेकशः उल्लेख है। वैदिक ...
Comments Off on वृक्ष, वनस्पति औषधि के रूप में हमारी सेवा करते हैं
ज्योतिष दस्तक-विशेष स्तम्भ हृदयनारायण दीक्षित

हृदयनारायण दीक्षित स्तम्भ : काव्य में भाव अभिव्यक्ति की प्रमुखता होती है और विज्ञान में प्रत्यक्ष सिद्धि की। विज्ञान में पृथ्वी सौर मण्डल का ग्रह है। पृथ्वी पर ...
Comments Off on कविता और विज्ञान एक साथ नहीं मिलते
दस्तक-विशेष स्तम्भ

स्तम्भ : मनुष्य और वन्यजीव के बीच सदियों से संघर्ष रहा है। इस संघर्ष को वर्तमान परिप्रेक्ष्य में कैसे देखें? कोई जानवर किसी इंसान की जान का दुश्मन ...
Comments Off on जंगलों में इंसान का बढ़ता दखल खतरनाक
दस्तक-विशेष स्तम्भ

स्तम्भ : बजट में सरकार ने लोकलुभावन घोषणा के बजाय देश की वर्तमान स्थिति का सिंहावलोकन करते हुए अपनी क्षमताओं का आकलन कर अपने संसाधनों के बलबूते भविष्य ...
Comments Off on आर्थिक समृद्धि व सुधारों वाला बजट 2020 : बृजनन्दन राजू
दस्तक-विशेष स्तम्भ

बृजनन्दन राजू स्तम्भ : आजादी के बाद दुर्भाग्य से देश के तत्कालीन नेताओं के मन में भारत को भारत जैसा बनाने की कल्पना नहीं थी। वह भारत को ...
Comments Off on राष्ट्र की अस्मिता का बोध कराने वाला होना चाहिए संविधान
दस्तक-विशेष स्तम्भ

बृजनन्दन राजू स्तम्भ : जिस संगठन की स्थापना देश को आजादी दिलाने के लिए हुई थी। आजादी मिलने के बाद इस राष्ट्र को सजाने संवारने और इस राष्ट्र ...
Comments Off on ‘आरएसएस’ को बदनाम करने का षडयंत्र
दस्तक-विशेष स्तम्भ

बृजनन्दन राजू स्तम्भ : मकर संक्रांति लोक रूचि और जन आस्था के साथ—साथ मकर संक्रान्ति समाजिक समरसता का महापर्व है। यह व्यक्ति के बीच भेद को मिटाकर आपसी ...
Comments Off on सामाजिक समरसता का महापर्व मकर संक्रान्ति