संजय राउत ने कसा ताना, कहा- अजित पवार को ठीक स्थान मिलेगा, वो बड़ा काम करके आए हैं

महाराष्ट्र में मंगलवार को तेजी से बदसे सियासी हालात के बाद उद्धव ठाकरे को महा विकास आगाड़ी का नेता चुन लिया गया है। वे कल यानी गुरुवार को मुंबई के शिवाजी मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। यह पहला मौका होगा जब शिवसेना का कोई नेता मुख्यमंत्री बनेगा।

शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि अजित पवार को ठीक स्थान मिलेगा, वो बहुत बड़ा काम करके आए हैं। महाराष्ट्र से देश में परिवर्तन की शुरुआत हुई है। हमारा मिशन पूरा हुआ। मैंने कहा था हमारा सूर्ययान मंत्रालय के छठे मंजिल पर सफल लैंड करेगा, तब सब हंस रहे थे। लेकिन, हमारे सूर्ययान का सफल लैंडिंग हो गया। आने वाले समय में अगर ये सूर्ययान दिल्ली में भी उतरे तो आपको आश्चर्य नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि सरकार चलाने में विचारधारा बाधक नहीं है। हम न्यूनतम साझा कार्यक्रम के अनुसार राज्य में सरकार चलाएंगे।

मैं एनसीपी में हूं और पार्टी में ही रहूंगा: अजित पवार
एनसीपी नेता अजित पवार ने बुधवार को कहा कि वह अपनी पार्टी में बने रहेंगे और इसके बारे में भ्रम पैदा करने की कोई वजह नहीं है। अजित पवार ने कहा कि अभी मेरे पास कहने के लिए कुछ नहीं है, मैं सही समय आने पर बोलूंगा। मैंने पहले भी कहा था कि मैं एनसीपी में हूं और मैं एनसीपी में ही रहूंगा। भ्रम पैदा करने की कोई वजह नहीं है। अपने चाचा और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के आवास पर मंगलवार देर रात जाने के बारे में अजित पवार ने कहा कि अपने नेता से मुलाकात करना मेरा अधिकार है।

विधानसभा में अजित पवार से गले मिलीं सुप्रिया सुले
महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र बुधवार को सुबह आरंभ होने पर सभी की नजरें एनसीपी नेता अजित पवार पर टिकी हुई थीं। कुछ दिनों पहले उन्होंने पार्टी से विद्रोह कर सरकार बनाने के लिए भाजपा को समर्थन देकर सबको हैरान कर दिया था, लेकिन मंगलवार को उन्होंने इस्तीफा भी दे दिया।

अजित पवार ने जैसे ही बुधवार को सुबह विधान भवन के परिसर में प्रवेश किया तो उनकी चचेरी बहन और लोकसभा सांसद सुप्रिया सुले ने उन्हें गले लगाया। एनसीपी प्रमुख शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले अपनी पार्टी के विधायकों का स्वागत करने के लिए विधान भवन के प्रवेश द्वार पर खड़ी थीं।

अपने चाचा और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के सिल्वर ओक आवास पर मंगलवार देर रात जाने के बारे में अजित पवार ने कहा कि अपने नेता से मुलाकात करना मेरा अधिकार है।