अभी तक नींबू के कई सारे फायदे सुने होंगे, अब नुकसान भी जान लें

- in स्वास्थ्य

नींबू ऐसी चीज है जो हर किसी के किचन में पाई जाती है। आपने कई बार देखा होगा सलाद हो या फिर चाट, बस नींबू निचोड़ देने के बाद इसके स्‍वाद में गजब का बदलाव आ जाता है। नींबू के रस के बिना गाजर, मूली, खीरा, ककड़ी, प्याज आदि के सलाद को स्वाद (टेस्ट) नहीं होता हैं। नींबू में संतरा, सेब, मौसमी, चकोतरा, अनार आदि से अधिक मात्रा में विटामिन `सी´ पाया जाता है। नींबू के रस में अम्लीय रस ज्यादा मात्रा में होता है। इसमें सिट्रिक अम्ल अधिक होता है। यह क्षारीय दृष्टि से एक अपरिहार्य फल है। नींबू का अचार भी डाला जाता है। नमक आदि से निर्मित चटनी में नींबू का रस मिलाकर सेवन करने से भूख लगती है और पाचन क्रिया तीव्र होती हैं।

नींबू मीठे, कुछ कड़वाहट लिए हुए तथा कागजी नींबू खट्टे होते हैं। गर्मी के मौसम में नींबू के रस का शर्बत बनाकर पिया जाता है। वहीं आपको बता दें कि एक तरफ जहां नींबू स्वाद तो बढ़ाता ही है साथ ही गर्मी के मौसम में बहुत फायदा भी पहुंचाता है। विटामिन सी से भरपूर नींबू के कई फायदे हैं, लेकिन आज हम आपको नींबू के कुछ नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे आज से पहले तो आप भी नहीं जानते होंगे जी हां लेकिन ये सच है। तो अब आप भी सोच रहे होंगे कि भला नींबू खाने से क्‍या नुकसान होता है तो आइए आपको बता दें।

ये हैं वो नुकसान :
सबसे पहले तो आप सभी ये जानते ही होंगे कि नींबू में सिट्रस एसिड होता है, लेकिन क्‍या आपको ये पता है कि इसके ज्‍यादा सेवन से हमारे दांतो पर बुरा असर भी पड़ता है और फिर धीरे धीरे हमारे दांत भी सेंसेटिव हो जाते हैं। तो आपको बता दें कि अगर आप भी इस तरह की समस्‍या से बचना चाहते हैं तो आप ये कर सकते हैं कि आप इसे स्ट्रा के द्वारा पी सकते हैं ताकि ये आपके दांतों के संपर्क में न आ पाए।

वहीं आपको बता दें कि नींबू में ऑक्सलेट मौजूद होता है जिसके ज्यादा सेवन करने से हमारे शरीर में क्रिस्टल बनने लगते हैं और ये धीरे धीरे पथरी का रूप धारण कर सकते हैं इसलिए हो सके तो एक निश्चित मात्रा में ही इसका प्रयोग करें।

वहीं सबसे महत्‍वपूर्ण बात आपको बता दें कि अगर कोई व्‍यक्ति को एसिडिटी की शिकायत रहती है तो उन्‍हें नींबू का सेवन बिल्‍कुल भी नहीं करना चाहिए क्‍योंकि इसमें एसिड होता है और इसके सेवन के बाद शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है।

कई बार लोग ऐसा भी होता है कि लोग ऑयली फूड खाने के बाद उसे पचाने के लिए नींबू का सहारा लेते हैं, जो कि पाचन में मददगार साबित होता है लेकिन वहीं कई बार पेट में ज्यादा एसिड हो तो ऐसा करने की वजह से पेट खराब भी हो जाता है। इसलिए खाने के बाद इसे न लेकर आप चाहे तो खाने में मिलाकर इसे खा सकते हैं।

ध्‍यान रहे कि अगर आपको नींबू पानी पीने से बार-बार टॉयलेट लगता है तो इससे आपके शरीर में डीहाइड्रेशन हो सकता है। इसलिए अच्‍छा होगा कि आप सादा पानी पीएं।