आदमियों से बेहतर और ताकतवर होती हैं महिलाएं: अक्षय कुमार

- in मनोरंजन

मुम्बई : सुपरस्टार अक्षय कुमार इस समय एक नए मिशन पर हैं। आने वाले 15 अगस्त को उनकी फिल्म मिशन मंगल रिलीज होने जा रही है। जब उनसे इस फिल्म के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया, स्पेस मिशन पर यह पहली फिल्म है। डायरेक्टर जगन शक्ति ने देश के अलग-अलग भागों के 5 साइंटिस्ट की कहानी के इर्द-गिर्द बुना है। मुझे जानकर ताज्जुब होता है कि भारत ने कैसे केवल 450 करोड़ रुपये में मंगल तक अपना मिशन भेज दिया जब कि मेरी और रजनीकांत की फिल्म 2.0 का बजट भी इससे ज्यादा था।
अक्षय ने कहा, हम लोग साइंस फिल्म नहीं बनाते हैं लेकिन यह एक स्पेस मिशन के बारे में थी। मुझे टॉपिक पसंद आया और फिर जगन ने इसकी कहानी आर बाल्की के साथ लिखनी शुरू की। बाद में इससे विद्या, सोनाक्षी और तापसी भी जुड़़ गईं और हमने केवल 32 दिनों में इसकी शूटिंग कर ली।
फिल्म के जरिए विमन एम्पावरमेंट का मेसेज देने के बारे में खिलाड़ी कुमार ने कहा, फिल्म का स्पष्ट मेसेज है कि महिलाएं केवल पुरुषों के बराबर ही नहीं बल्कि बेहतर और ज्यादा ताकतवर होती हैं। जब मंगलयान भेजा गया था तो मेरी पत्नी ट्विंकल ने लिखा कि इसे मॉम (मार्स ऑर्बिटर मिशन) एक खास कारण से कहा गया। मैं चाहता हूं कि इस फिल्म को लोग अपने बच्चों के साथ देखें क्योंकि कुछ लोग सोचते हैं कि कुछ खास काम केवल पुरुष ही कर सकते हैं और हम इसी सोच को तोडऩा चाहते हैं।
उन्नाव रेप केस पर अक्षय की खामोशी पर सवाल उठाए गए थे। इस बारे में उन्होंने कहा, मैं तभी बोलता हूं जब मुझे लगता है कि मुझे लगता है कि मुझे अपनी भावनाएं लोगों के सामने रखनी चाहिए। और यह केवल ट्वीट करने से नहीं होता बल्कि कुछ करने से होता है। मेरी फिल्में जैसे टॉइलट या पैडमैन भी मेरी भावनाएं प्रदर्शित करने का जरिया हैं। अगर मैं इस मुद्दे को किसी फिल्म के माध्यम से उठा सकता हूं तो मैं ऐसा जरूर करूंगा।