एम्स के इमरजेंसी वॉर्ड में भीषण आग, फायर ब्रिगेड की 39 गाड़ियां मौजूद

नई दिल्ली : अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के इमरजेंसी वार्ड में भीषण आग लगने की खबर आ रही है. बताया जा रहा है कि आग इमरजेंसी वार्ड की पहली और दूसरी मंजिल पर लगी है. मौके पर फायर ब्रिगेड की 39 गाड़ियां मौजूद हैं. उसके बाद इमरजेंसी वॉर्ड को बंद कर दिया गया है. आग का कारण शॉर्ट सर्किट को बताया जा रहा है. इमरजेंसी वार्ड में बिजली की आपूर्ति बंद कर दी गई है. इमरजेंसी वॉर्ड के मरीजों को दूसरे वॉर्ड में शिफ्ट कर दिया गया है. मौके पर ग्राउंड फ्लोर पर मौजूद अन्य लोगों को धुंए से बचाने के लिए हटा लिया गया है. इमरजेंसी वार्ड में बिजली सप्लाई को रोक दिया गया है. एम्स के जिस पीसी ब्लॉक में आग लगी है, वह मरीजों के रहने वाला क्षेत्र नहीं है. इस क्षेत्र में डॉक्टरों के बहुत से कमरे और रिसर्च लैब स्थित है.

मरीजों को इस वार्ड से बाहर स्थानांतरित कर दिया गया है. फायर विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें लैंडलाइन नंबर पर लगभग शाम 5 बजे फोन आया कि एम्स में आग लग गई है. तुरंत ही दमकल विभाग की 39 गाड़ियों को मौके पर रवाना कर दिया गया. पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली एम्स के ही कार्डियो-न्यूरो सेंटर के इंटेसिव केयर यूनिट में भर्ती हैं. वह आईसीयू एक दूसरे भवन में स्थित है. बताया जा रहा है कि आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी है. आग लगने के कारण इमरजेंसी वार्ड धुंए से भर गया. इसी साल मार्च में भी एम्स के ग्राउंड फ्लोर पर ऑपरेशन थिएटर के नजदीक स्थित ट्रॉमा सेंटर में आग लग गई थी.