कांग्रेस: चिदंबरम की गिरफ्तारी बदले की कार्रवाई है, सिब्बल ने SC पर ही खड़े किए सवाल

सीबीआई ने पूर्व वित्त और गृह मंत्री पी चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया है। इसे लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देश में बदले की भावना से काम हो रहा है। देश ने लोकतंत्र की हत्या होते हुए देखी। सुरजेवाला ने कहा, ‘भाजपा ने सीबीआई और ईडी को बदले की कार्रवाई करने वाले विभाग में बदल दिया है। यह लोकतंत्र की हत्या है, अर्थव्यवस्था की हालत खराब है। हम देख रहे हैं कि किस तरह से एक भाजपा सरकार इन मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए काम कर रही है।’ इंद्राणी मुखर्जी की चर्चा करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि 40 साल का सार्वजनिक जीवन जीने वाले व्यक्ति पर अपनी बेटी की हत्या की आरोपी के बयान के आधार पर कार्रवाई की गई है।

उन्होंने आगे कहा, ‘एफआईआर में पी चिदंबरम का नाम तक नहीं था। मामले में अभी तक चार्जशीट दाखिल नहीं की गई है। भाजपा की प्रोपेगैंडा मशीनरी गलत तथ्यों का प्रचार करने में लगी हुई है। 12 साल पहले के मामले में गिरफ्तारी का क्या मकसद है। भाजपा पांच साल से ज्यादा समय में सबूत इकट्ठा नहीं कर पाई है।’

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘व्यक्तिगत बदला लेने के जिस पूर्वाग्रह की जिस भावना से पूर्व वित्त और गृह मंत्री को गिरफ्तार किया गया उसने यह साबित कर दिया है कि मोदी सरकार व्यक्तिगत बदला देने के लिए किस हद तक गिर सकती है। देश का ध्यान बंटाने के लिए मोदी सरकार ने पिछले दो दिनों से चिदंबरम की गिरफ्तारी का ड्रामा रचा।’

सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट पर खड़े किए सवाल
वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वकील कपिल सिब्बल ने चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कहा, ‘कानूनी बिरादरी के सदस्यों के तौर पर यह हमारे लिए बहुत चिंता की बात है। नागरिकों के लिए भी यह चिंता का विषय होना चाहिए। सिब्बल ने इशारों-इशारों में सुप्रीम कोर्ट पर भी सवाल उठाए और कहा कि हम केवल सुनवाई चाहते थे लेकिन पीठासीन न्यायाधीश ने सुनवाई के बदले कहा कि वह मामले की फाइल को मुख्य न्यायाधीश के पास भेज रहे हैं। क्या किसी नागरिक को अपनी बात रखने का अधिकार नहीं है।’ सिब्बल ने आगे कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट हैंडबुक के मुताबिक सीजेआई संवैधानिक बेंच में बिजी हैं तो नियम यह है कि दूसरे सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश इसकी सुनवाई करें। हमें अपना अधिकार नहीं मिला। रजिस्ट्रार ने बताया कि चीफ जस्टिस शाम 4 बजे इस पर सुनवाई करेंगे। 4 बजे सुनवाई का समय ही नहीं बचता है।

कार्ति बोले पिता नहीं कांग्रेस को बनाया गया निशाना
पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने अपने पिता की गिरफ्तारी के बाद सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि उनके पिता को नहीं बल्कि कांग्रेस पार्टी को निशाना बनाया जा रहा है। अब वह दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। कार्ति ने मीडिया से कहा, ‘ये अनुच्छेद 370 से ध्यान हटाने के लिए किया गया है। मैं पीटर मुखर्जी से कभी नहीं मिला। मैं अपनी जिंदगी में इंद्राणी मुखर्जी से कभी नहीं मिला। मैंने इंद्राणी केवल तब देखा था जब सीबीआई मुझे उसके सामने लेकर गई। मेरी उनकी कंपनी से जुड़े लोगों के साथ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप कोई बातचीत नहीं हुई है।’